• AAP की चुनावी तिरंगा यात्रा के विरोध में उतरे महंत परमहंस दास

सत्य प्रकाश Sep 12, 2021 12:48

महंत परमहंस दास ने केंद्र सरकार से की मांग तिरंगा झंडा लगा कर राजनीति करने वालो पर लगे बैन, जनता में झूठे वादों से हो रहा अपमान

अयोध्या। तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास एक बार फिर राजनीतिक पार्टियों के विरोध में खड़े हो गए हैं। इस बार 14 सितंबर को होने वाले आम आदमी पार्टी की तिरंगा यात्रा के विरोध कर रहे हैं। उनका आरोप है कि दिल्ली के जेएनयू में जब देश विरोधी नारे लग रहा थे और भारत तेरे टुकड़े होंगे के समर्थन में, आम आदमी पार्टी भी शामिल रही तो अब अपनी राजनीति के लिए तिरंगे का अपमान कर रही है। 

इसे भी पढ़ें: राम की पैड़ी की भव्यता बढ़ाने वाले मंदिरों को मिलेगी प्राचीन झलक 

तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास में आज राजनीतिक पार्टियों में तिरंगे झंडे पर राजनीति करने से बैन लगाए जाने का मांग किया है। महंत परमहंस दास ने कहा कि आम आदमी पार्टी जनता की सबसे बड़ी दुश्मन हैं। दिल्ली के जेएनयू में जब देश विरोधी नारा लग रहा था भारत तेरे टुकड़े होंगे उनके समर्थन में आम आदमी पार्टी उतरी थी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपना रंग बदलने वाला गिरगिट रूपी इंशान है। पहले आम आदमी पार्टी के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया और राज्यसभा सांसद संजय सिंह सरयू में स्नान करें, भगवान और साधु-संतों के सामने जाकर माफी मांगे फिर उन्हें तिरंगा उठाने का हक होगा। वही राज सभा सांसद संजय सिंह को लेकर परमहंस दास कहा। शिवम टॉकीज में टिकट ब्लैक करने वाले संजय सिंह तिरंगे का सम्मान नहीं अपमान करते हैं। चुनाव को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करने वालों को जनता कभी माफ नहीं करेगी।