CM कोविड फंड में मिले रुपयों को खर्च करने में महाराष्ट्र सरकार ने की कंजूसी, भाजपा ने जांच की मांग की

CM कोविड फंड में मिले रुपयों को खर्च करने में महाराष्ट्र सरकार ने की कंजूसी, भाजपा ने जांच की मांग की

इस कोष में लगभग 800 करोड रुपए जमा हो गए थे। लेकिन सरकार की ओर से दान में मिले रकम को खर्च करने में काफी कंजूसी की गई और सिर्फ 24% ही उपयोग में लाया गया। अब भी इस कोष में 600 करोड़ से ज्यादा रुपए जमा हैं।

एक आरटीआई खुलासे के बाद महाराष्ट्र कोविड फंड को लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। आरटीआई रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि मुख्यमंत्री कोविड राहत कोष से सरकार ने लोगों को राहत देने में कंजूसी की है। जानकारी में यह भी पता चला है कि महाराष्ट्र मुख्यमंत्री राहत कोष में कोरोना महामारी काल के दौरान लोगों ने बढ़ चढ़कर दान किया था। इस कोष में लगभग 800 करोड रुपए जमा हो गए थे। लेकिन सरकार की ओर से दान में मिले रकम को खर्च करने में काफी कंजूसी की गई और सिर्फ 24% ही उपयोग में लाया गया। अब भी इस कोष में 600 करोड़ से ज्यादा रुपए जमा हैं।

इसे भी पढ़ें: UP में कोरोना संक्रमण के 3 नए मामले दर्ज, एक्टिव मरीजों की संख्या में आई गिरावट

इस खुलासे के बाद भाजपा अब महाराष्ट्र सरकार पर हमलावर हो गई है। भाजपा ने लोकायुक्त से सीएम कोविड राहत कोष से रुपए खर्च न किए जाने की जांच की मांग करनी शुरू कर दी है। भाजपा प्रवक्ता केशव उपाध्याय ने कहा कि प्रदेश सरकार लगातार फंड की कमी का दावा करती रही। उसने केंद्र सरकार पर भी हमला जारी रखा और मास्क से लेकर वेंटिलेटर तक के सामान की मदद मांगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 2 साल में उद्धव ठाकरे की सरकार ने केवल वसूली का काम किया है। इसके साथ उन्होंने कहा कि कोरोना फंड के नाम पर सरकार ने जनता से करोड़ों का संग्रह किया लेकिन उसका 24% हिस्सा ही इस्तेमाल किया। राज्य सरकार की ओर से विज्ञापनों पर खूब खर्च किए जाते हैं जबकि कोरोना से प्रभावित आधी आबादी अब भी आर्थिक तंगी से जूझ रही हैं। 

इसे भी पढ़ें: MP में गजब ऑफर! कोरोना वैक्‍सीन की लें दोनों डोज और शराब पर पाएं 10% डिस्‍काउंट

आपको बता दें कि कोरोना महामारी के दौरान महाराष्ट्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने खुद लोगों से मदद करने की अपील की थी। उनकी इस अपील के बाद कई लोगों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में आर्थिक सहायता दी थी। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में मंगलवार को कोविड-19 के 766 नये मामले सामने आने के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 66,31,297 हो गयी जबकि 19 और रोगियों की मौत होने से मृतकों की तादाद 1,40,766 तक पहुंच गई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने एक बुलेटिनजारी कर यह जानकारी दी। वक्तव्य के मुताबिक राज्य में बीते 24 घंटे में 929रोगियों के संक्रमण से उबरने की पुष्टि हुई है जिसके बाद संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 64,77,379 हो गई है। महाराष्ट्र में कोविड-19 के उपचाराधीन रोगियों की संख्या 9,493 हो गयी है। संक्रमण से ठीक होने की दर 97.68 प्रतिशत हो गयी है जबकि मृत्यु दर 2.12 प्रतिशत बनी हुई है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...