काशी के सेंट्रल हिंदू कॉलेज में महात्मा गांधी ने दिया था पहला भाषण, छात्रों और जनता से पूछा था यह सवाल

mahatma gandhi
अमित मुखर्जी । Jan 30, 2022 10:48AM
काशी में महात्मा गांधी ने पहला भाषण दिया था। छात्रों और जनता से पूछा था देश मे आप कैसा स्वराज चाहते हैं। काशी में महात्मा गांधी 12 बार यात्रा पर आये थे।

आज पूरा देश महात्मा गांधी की पुण्य तिथि मना रहा हैं। बहुत कम। लोगो को मालूम होगा कि उन्होंने अपना पहला राजनैतिक उद्बोधन काशी हिंदू विश्वविद्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम में 5 फरवरी 1916 को दिया था। सेंट्रल हिंदू कॉलेज में जनसभा को संबोधित किया था। बीएचयू हिस्ट्री डिपार्टमेंट की एसोसिएट प्रो डॉ अनुराधा सिंह ने बताया कि इस उद्बोधन में आज़ादी को लेकर बाते कही गयी थी। मदन मोहन मालवीय, एनी बेसेंट, दरभंगा के राजा रामेश्वर सिंह सहित देश भर से आये कई महत्वपूर्ण लोग थे। गांधी जी ने आभूषण पहने राजाओं से नाराजगी भी जताई थी कि देश जूझ रहा और आप ऐसे आये हैं।

इसे भी पढ़ें: बीजेपी ने काशी से पलटा गेम, सपा-कांग्रेस के कई नेताओं ने ग्रहण की सदस्यता

उन्होंने पहले भाषण में कुछ प्रमुख बाते कही थी। देश की जनता और यहां मौजूद छात्र स्वराज को लेकर क्या सोचते हैं। उनके विचार क्या हैं। हमारा देश सोने की चिड़िया से गरीब कैसे हो गया। गरीबी दूर करने पर विचार करे। मुस्लिम लीग और कांग्रेस अपने विचारों को स्पष्ट करे।उन्होंने ये भी कहा बनारस वायसराय लार्ड हार्डिंग ने इलाके को छावनी बना दिया हैं। शासक को खुद के मौत का खतरा हैं। उसको अपने जीवन का भय हैं। वो किसी की रक्षा क्या करेगा।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़