धार्मिक कट्टरता की चादर ओढ़ कर उदयपुर में निर्मम हत्या! ममता बनर्जी- राहुल गांधी, केजरीवाल ने की वारदात की निंदा

Udaipur
ANI
रेनू तिवारी । Jun 29, 2022 1:10PM
राजस्थान के उदयपुर में दर्जी का सरेआम सिर काटने को लेकर देश में कोहराम मचा हुआ है। कन्हैया लाल नाम के दर्जी ने बीजेपी नेता नुपुर शर्मा के बयान के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। उसके बाद दो मुसलमान युवक उसकी दुकान में घुस गए और उसकी बेरहमी से हत्या कर दी।

राजस्थान के उदयपुर में दर्जी का सरेआम सिर काटने को लेकर देश में कोहराम मचा हुआ है। कन्हैया लाल नाम के दर्जी ने बीजेपी नेता नुपुर शर्मा के बयान के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। उसके बाद दो मुसलमान युवक उसकी दुकान में घुस गए और उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। उन्होंने घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया। इस भयानक घटना से देश स्तब्ध है। ऐसे में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस हत्या की कड़ी निंदा करते हुए ट्वीट किया।

इसे भी पढ़ें: फ्लोर टेस्ट से पहले दान-पुण्य करने में जुटे शिवसेना बागी विधायक, असम में बाढ़ राहत कार्य के लिए 51 लाख की मदद की

बनर्जी ने ट्वीट किया, “हिंसा और चरमपंथ अस्वीकार्य है, चाहे कुछ भी हो। उदयपुर में जो हुआ उसकी मैं निंदा करती हूं। कानून अपना काम करेंगे। मैं लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह करती हूं।” गौरतलब है कि उदयपुर में मंगलवार को दो लोगों ने कथित तौर पर धारदार हथियार से एक दर्जी की हत्या कर दी थी और उसका वीडियो सार्वजनिक करते हुए कहा कि वे ‘‘इस्लाम के अपमान’’ का बदला ले रहे हैं। इसके बाद उदयपुर में हिंसा के छुटपुट मामले हुए हैं। जिले के सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। राज्यभर में 24 घंटे के लिये मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है और आगामी एक माह के लिये प्रदेश में निषेधाज्ञा लगा दी गई है। आरोपियों ने ऑनलाइन पोस्ट किए गए वीडियो में जुर्म कबूल किया है और पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अब इस मामले की जांच NIA करेगा।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी उदयपुर की घटना की कड़ी निंदा की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'उदयपुर में हुई जघन्य हत्या से स्तब्ध हूं। धर्म के नाम पर बर्बरता को स्वीकार नहीं किया जा सकता। इस तरह की क्रूरता से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सजा मिलनी चाहिए। हम सबको मिलकर नफरत को हराना है। मैं सभी से शांति और भाईचारा बनाए रखने का आग्रह करता हूं।"

इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट कर हत्याओं की निंदा की। उन्होंने लिखा, “उदयपुर की घटना भयानक और वीभत्स है। सभ्य समाज में इस तरह के अत्याचारों के लिए कोई जगह नहीं है। मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं। हम इस घटना के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग करते हैं।”

उल्लेखनीय है कि मंगलवार दोपहर करीब ढाई बजे दो युवक मोहम्मद रियाज अख्तर और मोहम्मद घोष धनमंडी इलाके में दर्जी की दुकान में घुसे। उन्होंने शुरू में उस दर्जी को शर्ट का आकार दिया जो मारा गया था। इसके बाद उसने दर्जी के सिर और गर्दन पर धारदार हथियार से वार कर दिया। हत्यारों ने पूरी घटना का वीडियो भी बना लिया। इसके बाद इसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया गया। प्रतिवादियों ने वीडियो में कई मुद्दों पर आपत्तिजनक टिप्पणी की। यहां तक ​​कि प्रधानमंत्री को जान से मारने की धमकी भी दी गई। दोनों हत्यारों ने नुपुर शर्मा को सिर काटने की धमकी भी दी।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़