ममता बनर्जी ने की पीएम मोदी से मुलाकात, कई अहम मुद्दों पर हुई चर्चा

Mamata meet PM modi
ANI
अंकित सिंह । Aug 05, 2022 5:39PM
जानकारी तो यह भी है कि ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी के समक्ष पश्चिम बंगाल को लेकर कुछ मांगे भी रखी हैं। साथ ही साथ उन्होंने महंगाई और जीएसटी का भी मुद्दा उठाया है। आपको बता दें कि ममता बनर्जी का राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से भी मिलने का कार्यक्रम है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दिल्ली दौरे पर हैं। आज उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। नरेंद्र मोदी से ममता बनर्जी की यह मुलाकात प्रधानमंत्री आवास पर हुई है। ममता बनर्जी से नरेंद्र मोदी की मुलाकात ऐसे समय में हो रही है जब तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्थ चटर्जी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय की कार्रवाई जारी है। प्रवर्तन निदेशालय लगातार पार्थ चटर्जी के खिलाफ कई सबूत जुटाने की कोशिश कर रहा है। पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी के पांच से ईडी को अब तक 55 करोड़ से ज्यादा रुपए मिले हैं। इसके अलावा भारी मात्रा में जेवरात भी बरामद हुए हैं। ममता बनर्जी ने पार्थ चटर्जी को मंत्रिमंडल से बर्खास्त भी कर दिया था। हालांकि कहीं ना कहीं इस मुलाकात को पार्थ चटर्जी के मामले से जोड़कर देखा जा रहा है।

जानकारी तो यह भी है कि ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी के समक्ष पश्चिम बंगाल को लेकर कुछ मांगे भी रखी हैं। साथ ही साथ उन्होंने महंगाई और जीएसटी का भी मुद्दा उठाया है। ममता ट्वारा जो मद्दे उठाए गए उनमें जीएसटी बकाया और केंद्र द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत समय पर धन जारी करना शामिल है। प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन में बनर्जी ने कहा कि ग्रामीण रोजगार योजना-मनरेगा, पीएम-आवास योजना और पीएम-ग्रामीण सड़क योजना के क्रियान्वयन के कारण राज्य के लिए धन को तत्काल जारी करने के संबंध में वह कई बार हस्तक्षेप का आग्रह कर चुकी हैं। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं के तहत राज्य को देय राशि अब लगभग 17,996.32 करोड़ रुपये है।

अपने ज्ञापन में बनर्जी ने विभिन्न योजनाओं और लाभों के तहत राज्य को देय कुल राशि का ब्योरा प्रस्तुत किया है। केंद्र सरकार की ओर से राज्य को 31 जुलाई, 2022 तक जो राशि बकाया है, वह लगभग 1,00,968.44 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।आपको बता दें कि ममता बनर्जी का राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से भी मुलाकात की। इसके अलावा ममता बनर्जी नीति आयोग के कार्यक्रम में शामिल होंगी। गौरतलब है कि ममता बनर्जी गुरुवार को दिल्ली पहुंची थीं। उन्होंने देर शाम तृणमूल कांग्रेस के सांसदों के साथ बैठक भी की थी।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़