ममता ने कहा सीपीआई (एम) और बीजेपी की डिजिटल टीमें पश्चिम बंगाल को बदनाम कर रही हैं

Mamata Banerjee img
प्रतिरूप फोटो
ANI
उन्होंने कहा, ‘‘माकपा और भाजपा की डिजिटल टीमें राज्य को बदनाम कर रही हैं।’’ बनर्जी ने कहा कि दुर्गा पूजा के लिए यूनेस्को का अमूर्त विरासत का दर्जा सहित कई प्रशंसा राज्य की सफलता को साबित करती हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की डिजिटल टीमें पश्चिम बंगाल को बदनाम कर रही हैं। बनर्जी ने कोलकाता में कई दुर्गा पूजा पंडालों का उद्घाटन करते हुए कहा कि कुछ लोग ऐसे हैं जिन्हें पश्चिम बंगाल के बारे में कुछ भी अच्छा नहीं लगता। उन्होंने कहा, ‘‘जब हम ‘बिस्व बांग्ला’ शब्द लेकर आए, तो ये आलोचकों ने इसका मजाक उड़ाया। वे गलत हैं और मान्यताएं इसे साबित करती हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘माकपा और भाजपा की डिजिटल टीमें राज्य को बदनाम कर रही हैं।’’ बनर्जी ने कहा कि दुर्गा पूजा के लिए यूनेस्को का अमूर्त विरासत का दर्जा सहित कई प्रशंसा राज्य की सफलता को साबित करती हैं। एकदलिया एवरग्रीन क्लब के पंडाल में जाकर बनर्जी ने पूर्व मंत्री सुब्रत मुखर्जी को याद किया जिन्होंने वर्षों तक पूजा का आयोजन किया। बनर्जी ने कहा, ‘‘उन्होंने (सीबीआई ने) सुब्रत-दा को गिरफ्तार किया। गिरफ्तारी के बाद मैं उनसे मिलने गई क्योंकि उन्हें सीने में दर्द था। उनके जैसे वरिष्ठ राजनेता को अपमानित किया गया।’’

बनर्जी ने कहा कि वह मुखर्जी ही थे जो उन्हें राजनीति में लाए। उन्होंने कहा, ‘‘हम सुबह उनके आवास पर किसी भी रैली के मार्ग और आंदोलन के तरीके पर चर्चा करते थे। मेरे राजनीतिक जीवन की शुरुआत उन्होंने ही की थी।’’ उन्होंने कहा कि बालीगंज में एक पार्क का नाम जल्द ही मुखर्जी के नाम पर रखा जाएगा। टीएमसी सूत्रों ने बताया कि बनर्जी इस साल करीब 150 दुर्गा पूजा पंडालों का भौतिक तरीके से और कम से कम 400 का डिजिटल तरीके से उद्घाटन करेंगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़