• ममता का बड़ा आरोप, पेगासस स्पाइवेयर का इस्तेमाल कर प्रशांत किशोर के साथ हमारी मीटिंग की जासूसी कर रही सरकार

अभिनय आकाश Jul 22, 2021 19:20

ममता ने कहा कि मैं कुछ दिन पहले प्रशांत किशोर और कुछ अन्य लोगों के साथ बैठक में थी। उन्होंने (सरकार ने) बैठक का क्लोन तैयार किया है। बंगाल सीएम ने कहा कि प्रशांत किशोर ने अपने फोन का ऑडिट करवाया और पता चला कि हमारी एक मुलाकात उन्हें (सरकार को) पेगासस स्पाइवेयर के जरिए पता थी।

पेगासस स्पाइवेयर को लेकर देश में बवाल मचा है। जासूसी के आरोपों पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मोदी सरकार पर लगातार हमलावर हैं। अब ममता दीदी ने मोदी सरकार को पेगासस स्पाइवेयर का इस्तेमाल कर फोन की कथित हैकिंग के लिए आड़े हाथ लेते हुए आरोप लगाया कि केंद्र की सत्तारूढ़ सरकार ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के साथ उनकी बैठकों  की जासूसी की है। ममता ने कहा कि मैं कुछ दिन पहले प्रशांत किशोर और कुछ अन्य लोगों के साथ बैठक में थी। उन्होंने (सरकार ने) बैठक का क्लोन तैयार किया है। बंगाल सीएम ने कहा कि प्रशांत किशोर ने अपने फोन का ऑडिट करवाया और पता चला कि हमारी एक मुलाकात उन्हें (सरकार को) पेगासस स्पाइवेयर के जरिए पता थी।

 ‘स्नूपगेट’ को ‘वाटरगेट’ से अधिक खतरनाक

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पेगासस जासूसी प्रकरण को अमेरिका में रिचर्ड निक्सन के शासनकाल में सामने आए ‘वाटरगेट’ प्रकरण से भी अधिक खतरनाक है। बनर्जी ने कथित जासूसी को ‘‘महा-आपातकाल’’ करार दिया। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार ने सभी निष्पक्ष संस्थानों का राजनीतिकरण कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘पेगासस, वाटरगेट स्कैंडल से भी अधिक खतरनाक है, यह महा-आपातकाल है।’’