ममता का आरोप, चुनाव में पुलवामा हमले पर राजनीति करना चाहती है मोदी सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2019   15:30
ममता का आरोप, चुनाव में पुलवामा हमले पर राजनीति करना चाहती है मोदी सरकार

तृणमूल कांग्रेस की विस्तारित कोर कमेटी को संबोधित करते हुए बनर्जी ने आगामी आम चुनाव में ‘‘तानाशाही वाली नरेंद्र मोदी सरकार’’ को सत्ता से हटाने का संकल्प जताया।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया कि मोदी सरकार को पुलवामा हमले के बारे में खुफिया सूचनाएं थी लेकिन उसने कोई कदम नहीं उठाया क्योंकि वह जवानों की शहादत पर राजनीति करना चाहती है।  तृणमूल कांग्रेस की विस्तारित कोर कमेटी को संबोधित करते हुए बनर्जी ने आगामी आम चुनाव में ‘‘तानाशाही वाली नरेंद्र मोदी सरकार’’ को सत्ता से हटाने का संकल्प जताया। 

उन्होंने दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस चुनाव में पश्चिम बंगाल में लोकसभा की सभी 42 सीटों पर चुनाव जीतेगी। बनर्जी ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार को पता था कि इस तरह का हमला हो सकता है, इस बारे में खुफिया सूचनाएं थी। इसके बावजूद हमारे जवानों को बचाने के लिए सरकार ने कदम क्यों नहीं उठाया। सरकार ने उन्हें मरने दिया ताकि वे चुनाव में जवानों की शहादत पर राजनीति कर सकें।’’ तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने लोकसभा चुनाव के पहले युद्ध को लेकर उन्मादी माहौल बनाने का भी आरोप लगाया। 

इसे भी पढ़ें: सरकार को कमजोर बताने वाले बयानों से दुश्मन देश का मनोबल बढ़ेगा

बनर्जी ने कहा कि कि केंद्र सरकार विचित्र तरीके से काम कर रही है। केंद्रीय मंत्रियों को भी महत्वपूर्ण फैसले के बारे में पता नहीं होता है। उन्होंने कहा, ‘‘सरकार को दो भाई (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह) चला रहे हैं, जिनके हाथों पर बेगुनाहों का खून है।’’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं को सावधान रहने की जरूरत है क्योंकि लोकसभा चुनाव के दौरान ईवीएम से छेड़छाड़ की कोशिश होगी। आपको ऐसी कोशिशों को नाकाम करना होगा।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...