100 करोड़ की रिश्वत, डिजिटल सबूत मिटाने की कोशिश, मनीष सिसोदिया ने 140 मोबाइन फोन नष्ट किए, शराब घोटाले में बड़ा दावा

Sisodia
Creative Common
अभिनय आकाश । Nov 11, 2022 1:01PM
बीजेपी नेता ने कहा कि जब ये पूरा विषय एक घोटाले के नाते आगे आने लगा और सीबीआई की जांच इस पर बैठा दी गई। तो आपको जानकर आश्चर्य होगा कि 140 मोबाइल फोन बदले गए। बीजेपी नेता ने कहा कि ये जो डिजिटल फूटप्रिंट्स होते हैं इन्हें ढकने के लिए लगभग 140 मोबाइल फोन 34 लोगों ने बदला है।

दिल्ली की विवादित शराब नीति को लेकर प्रवर्तन निदेशालय के दावे के  बाद बीजेपी दिल्ली की आम आदमी पार्टी पर हमलावर हो गई है। बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मनीष सिसोदिया पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि शराब घोटाले में कई परते खुलकर सामने आ रही हैं। शराब घोटाले में कल दो और आरोपी पकड़े गए। हैदराबाद से बिजनेसमैन को गिरफ्तार किया गया है। इसके तार शराब नीति से जुड़े हैं। शराब घोटाले को लेकर परत दर परत खुल रही हैं। उन्होंने कहा कि रिमांड लेटर हैं, जिसमें 2631 करोड़ का नुकसान हुआ। 

इसे भी पढ़ें: मानहानि मामला: दिल्ली की अदालत ने खारिज की सत्येंद्र जैन, आतिशी समेत AAP नेताओं की याचिका

बीजेपी नेता ने कहा कि जब ये पूरा विषय एक घोटाले के नाते आगे आने लगा और सीबीआई की जांच इस पर बैठा दी गई। तो आपको जानकर आश्चर्य होगा कि 140 मोबाइल फोन बदले गए। बीजेपी नेता ने कहा कि ये जो डिजिटल फूटप्रिंट्स होते हैं इन्हें ढकने के लिए लगभग 140 मोबाइल फोन 34 लोगों ने बदला है। इसमें आरोपी नंबर एक मनीष सिसोदिया हैं। मनीष सिसोदिया और उनके मित्रगण ने मिलकर ये शराब घोटाला किया, जब इस पर जांच बैठाई गई तो डिजिटल सबूत मिटाने के लिए 140 मोबाइल फोन बर्बाद किए गए। फिर नए खरीदे गए ताकि सबूत मिट सके। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली घूमने जा रहे हैं? मनोकामनाएं पूरी करना चाहते हैं? तो दादा देव मंदिर जाएं

बीजेपी नेता ने मोबाइल फोन दिखाते हुए कहा कि 140 मोबाइल फोन में मनीष सिसोदिया और उनकी टोली ने 1 करोड़ 20 लाख रुपये खर्च किए। जो सादगी की कसम खाते थे और गारंटी लेते थे कि राजनीति में नहीं आएंगे। बीजेपी ने कहा कि आबकारी नीति को 5 जुलाई, 2021 को सार्वजनिक किया गया था, लेकिन नीति की एक प्रति 31 मई, 2021 को मनीष सिसोदिया के दोस्तों को लीक कर दी गई थी जिसमें निर्माता और कार्टेल शामिल थे।

अन्य न्यूज़