‘रिंकिया के पापा’ का मजाक उड़ाकर केजरीवाल कर रहे हैं पूर्वांचल के लोगों का उपहास: मनोज तिवारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2020   17:46
‘रिंकिया के पापा’ का मजाक उड़ाकर केजरीवाल कर रहे हैं पूर्वांचल के लोगों का उपहास: मनोज तिवारी

भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष तिवारी के बारे में उनके विचार पूछे जाने पर केजरीवाल ने हाल ही में भोजपुरी सिने जगत के जाने माने अभिनेता निशाना साधा था। हालाकि मुख्यमंत्री ने तिवारी को एक ‘‘अच्छा गायक’’ करार दिया, जिन्होंने ‘रिंकिया के पापा’ गीत गाया है।

नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आरोप लगाया है कि आम आदमी पार्टी तथा इसके प्रमुख अरविंद केजरीवाल ‘‘रिंकिया के पापा’’ गाने का मजाक उड़ाकर पूर्वांचल के लोगों एवं उनकी संस्कृति का ‘‘अपमान’’ कर रहे हैं। तिवारी ने दिये साक्षात्कार में कहा कि दिल्ली में रहने वाले पूर्वांचल के लोग (पूर्वी उत्तर प्रदेश तथा बिहार के कुछ हिस्सों के लोग) केजरीवाल सरकार की ओर से दिये गए मुफ्त बिजली एवं पानी योजना में नहीं बहेंगे क्योंकि उनमें से 98 फीसदी लोग भाजपा का समर्थन कर रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष तिवारी के बारे में उनके विचार पूछे जाने पर केजरीवाल ने हाल ही में भोजपुरी सिने जगत के जाने माने अभिनेता निशाना साधा था। हालाकि मुख्यमंत्री ने तिवारी को एक ‘‘अच्छा गायक’’ करार दिया, जिन्होंने ‘रिंकिया के पापा’ गीत गाया है। 

तिवारी ने कहा, ‘‘दिल्ली चुनावों में पूर्वांचल के लोग भाजपा का समर्थन करेंगे क्योंकि केजरीवाल और उनकी पार्टी ने एक से अधिक बार उनका और उनकी संस्कृति का ‘‘अपमान’’ किया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि गाने में ‘‘रिंकिया’’ का आशय बेटियों से है। गाने का मजाक बना कर आप एवं केजरीवाल ने समाज में बेटियों एवं महिलाओं की भूमिका को ‘‘नीचा दिखाया’’ है। तिवारी ने कहा, ‘‘मुझे उनकी (केजरीवाल की) सोच पर दया आती है। ऐसे समय में जब देश में ‘बेटी बचाओ’ के बारे में बात की जा रही है, तो वह उन पिताओं का मजाक उड़ा रहे हैं जिनकी बेटियां हैं।’’ उन्होंने पूछा, ‘‘रिंकिया के पापा एक गीत है....रिंकिया का आशय बेटियों से है, क्या किसी को बेटी होना अभिशाप है।’’ भाजपा नेता ने कहा कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी के मामले में भी केजरीवाल ने पूर्वांचल के लोगों का अपमान किया है और उन्होंने यह बोलकर भी लोगों का अपमान किया है कि दिल्ली सरकार के अस्पतालों में बेहतर इलाज के लिए वे लोग यहां आते हैं। तिवारी ने कहा, ‘‘वह (केजरीवाल) और उनकी पार्टी कहती हैं कि दिल्ली में अगर राष्ट्रीय नागरिक पंजी लागू हुआ तो मनोज तिवारी और पूर्वांचल के लोगों को दिल्ली छोड़ना होगा। वे कहते हैं कि पूर्वांचल के लोग 500 रुपये का टिकट खरीद कर दिल्ली सरकार के अस्पतालों में बेहतर इलाज के लिए चले आते हैं और इसके बाद वह अपने घर चले जाते हैं। अब वह मेरे गीत रिंकिया के पापा के लिए मेरा उपहास कर रहे हैं।’’

इसे भी पढ़ें: विपक्षी प्रत्याशी भले कमजोर लग रहे हों, लेकिन केजरीवाल को मिलेगी तगड़ी टक्कर

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दिल्ली में अगली सरकार बनाएगी और मुख्यमंत्री का चयन इसके विधायक करेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘(दिल्ली विधानसभा चुनाव में) भारतीय जनता पार्टी कम से कम 45 सीटें जीतेगी, जैसा हमारे सर्वेक्षणों में पता चला है । आम आदमी पार्टी और केजरीवाल हमेशा भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में बातचीत करते हैं, इसका मतलब है कि वह हमारी जीत को स्वीकार कर रहे हैं। जहां तक हमारे मुख्यमंत्री की बात है तो हमारी पार्टी अगर दिल्ली में सरकार का गठन करेगी तो पार्टी के विधायक इसका चयन करेंगे।’’ तिवारी ने दावा किया दिल्ली के लोग शांति एवं सुरक्षा के लिए मतदान केरेंगे न कि उनके पक्ष में जो संशोधित नागरिकता कानून का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली के लोग हिंसा नहीं चाहते हैं । वह नहीं चाहते हैं कि आप एवं कांग्रेस पैसे बांट कर शाहीन बाग की सड़कों पर अराजकता फैलाये। वह एक सुरक्षित दिल्ली चाहते हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा बड़े अंतर से चुनाव जीतेगी।’’ उन्होंने कहा कि संशोधित नागरिकता कानून से किसी की नागरिकता नहीं जा रही है, जिस पर अब भी विरोध और हिंसा जारी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।