मेरठ :मानसून ब्रेक के कारण बढ़ेगी उमस नहीं होगी अगले पांच दिनों तक बारिश

Meerut: Mansoon Break
Rajeev Sharma । Aug 25, 2021 10:36AM
मेरठ में पिछले चार दिन से रुक-रुककर हो रही बारिश के बीच सोमवार और मंगलवार को मौसम बदल गया। उमस के साथ आसमान में बादल और कुछ जगहों पर हल्की बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले पांच दिन तक शुष्क मौसम रहने की संभावना है।

मेरठ ,11 दिन पूरी तरह से शुष्क और गर्म मौसम के बाद बीते दो-तीन दिन हुई बारिश पर आज से फिर ब्रेक लग जाएगा। एक बार फिर से मेरठ सहित उत्तर-पश्चिम भारत में मानसून ब्रेक कंडीशन बन गई है। इस स्थिति में मैदानों में पुरवाई की जगह केवल पछुवा हवा चलेगी। मौसम पूरी तरह से शुष्क और साफ रहेगा। मेरठ में पिछले चार दिन से रुक-रुककर हो रही बारिश के बीच सोमवार और मंगलवार को मौसम बदल गया। उमस के साथ आसमान में बादल और कुछ जगहों पर हल्की बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले पांच दिन तक शुष्क मौसम रहने की संभावना है।

सोमवार को आसमान पर काले बादल छाए थे, दिन में कभी बादल तो कभी धूप के बीच आंख मिचौली का खेल चलता रहा। इस कारण से दिन में उमस बनी रही। पिछले चार दिन में दिन का तापमान 7 डिग्री बढ़ गया है। मौसम कार्यालय पर दिन का अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री व रात का न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम वैज्ञानिको का मानना है की अगले तीन-चार दिन में अधिकतम तापमान 36-37 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है।

कृषि विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. यूपी शाही का कहना है कि मानूसनी बारिश का असर पिछले तीन- चार दिन से बना हुआ था। कहीं पर ज्यादा तो कहीं पर कम रही। अब आगामी पांच दिन तक मौसम के शुष्क रहने के असार है। जिस कारण से गर्मी का असर भी रहेगा और उमस के साथ तापमान में भी बढ़ोतरी होगी। कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।मौसम विभाग के अनुसार 23 अगस्त तक मेरठ में 133 मिमी बारिश हुई है। अगस्त में सामान्य बारिश 202.8 मिमी है। चूंकि मानसून ब्रेक कंडीशन शुरू हो गई है, ऐसे में अगस्त के बाकी दिनों में अच्छी बारिश के आसार नहीं हैं। इस स्थिति में यह लगातार दूसरा साल होगा जबकि अगस्त में सामान्य से कम बारिश दर्ज की जा रही है। 2020 में अगस्त में मात्र 91 मिमी बारिश हुई थी। ऐसे में अगस्त में इस बार भी सामान्य बारिश की उम्मीद नहीं है। इसके अलावा मेरठ का एक्यूआई रविवार को 43 रिकॉर्ड किया था जो सोमवार को बढ़कर 59 पर पहुंच गया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़