मुठभेड़ों पर राजनीतिक दलों के बयानों को डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

मुठभेड़ों पर राजनीतिक दलों के बयानों को डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

रामबाग मुठभेड़ में द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) के स्वयंभू कमांडर समेत तीन आतंकवादियों के मारे जाने के एक दिन बाद गुरुवार को श्रीनगर के व्यस्ततम इलाके में अधिकतर दुकानें बंद रहीं जबकि शहर के कई हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं।

जम्मू-कश्मीर में रामबाग मुठभेड़ पर पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती द्वारा संदेह जताने के बाद राज्य पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह ने कहा है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ लोग तीनों आतंकवादियों को निर्दोष बता रहे हैं। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि मारे गए तीनों आतंकवादी एक पुलिस उप निरीक्षक, स्कूल प्रधानाध्यापक, शिक्षक और दो आम नागरिकों की हत्या में शामिल थे। हम आपको बता दें कि महबूबा मुफ्ती ने कहा कि उन्हें बुधवार को श्रीनगर के रामबाग इलाके में हुई मुठभेड़ की प्रामाणिकता पर संदेह है।

इसे भी पढ़ें: कश्मीरी केसर की बात ही अलग है, जानिये कैसे होती है इसकी खेती और क्या है असली केसर की पहचान

इस मुठभेड़ में द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) के स्वयंभू कमांडर समेत तीन आतंकवादियों के मारे जाने के एक दिन बाद गुरुवार को श्रीनगर के व्यस्ततम इलाके में अधिकतर दुकानें बंद रहीं जबकि शहर के कई हिस्सों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं। अधिकारियों ने कहा कि जिन इलाकों में बंद देखा गया उनमें श्रीनगर के अंदरूनी इलाके नौहट्टा, गोजवाड़ा, खानयार, सफाकदल, नवाकदल, राजौरी कदल और एमआर गंज शामिल हैं। अधिकारियों ने कहा कि यातायात सामान्य रूप से जारी रहा। शहर के कई इलाकों में ऐहतियात के तौर पर मोबाइल इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं।

आइये अब आपको मिलवाते हैं श्रीनगर के युवा डांसर एमजे नासिर से। श्रीनगर में एक ही डांस एकेडमी है जोकि नासिर चलाते हैं। नासिर ने देशभर में 60 से ज्यादा स्टेज परफॉर्मेंस दी हैं। नासिर उन युवाओं में से हैं जो अपने असाधारण कौशल के माध्यम से घाटी में अपने लिए अलग जगह बनाना चाहते हैं। एमजे नासिर श्रीनगर में काफी लोकप्रिय हो चुके हैं। प्रभासाक्षी संवाददाता से खास बातचीत में उन्होंने कहा कि जब डांस एकेडमी शुरू करने की बात आई तो मेरे परिवार के अलावा किसी ने भी मेरा समर्थन नहीं किया। उन्होंने कहा कि लेकिन अब धीरे-धीरे माहौल बदल रहा है और एकेडमी से बड़ी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: कश्मीर घाटी में आतंक को फंडिंग करने वालों की खैर नहीं, NIA ने खुर्रम परवेज को धर दबोचा

एमजे नासिर ने कहा कि घाटी में माहौल ऐसा नहीं है कि आप खुले तौर पर नृत्य कर सकते हैं। इसलिए शुरुआत में मेरे लिए यह सब बहुत मुश्किल था लेकिन मुझे इसके लिए जुनून था इसलिए मैंने इंटरनेट पर नृत्य वीडियो देखकर ध्यान केंद्रित किया और इसे सीखा। उन्होंने कहा कि अब मैं इसे और लोगों को भी सिखा रहा हूँ।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।