उत्तर प्रदेश की खबरें: मंत्री नन्दी और महापौर ने 34.59 लाख रुपये के विकास कार्यों का किया लोकार्पण

Minister Nandi
उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन, अल्पसंख्यक कल्याण, राजनैतिक पेंशन, मुस्लिम वक्फ एवं हज मंत्री व प्रयागराज शहर दक्षिणी विधायक नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी और प्रयागराज की महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी ने शुक्रवार को नैनी के विभिन्न क्षेत्रों में विधायक निधि योजनान्तर्गत 34.59 लाख रुपये की लागत से बने विकास कार्याे का लोकार्पण किया।

प्रदेश के वर्तमान में सभी तटबन्ध सुरक्षित हैं गत 24 घंटे में प्रदेश में 2.8 मि0मी0 औसत वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा से 7.9 मि0मी0 के सापेक्ष 35 प्रतिशत है। प्रदेश में 01 जून, 2021 से अब तक 561.8 मि0मी0 औसत वर्षा हुई, जो सामान्य वर्षा 596.2 मि0मी0 के सापेक्ष 94 प्रतिशत है। शारदा नदी पलियाकलाँ खीरी, घाघरा-बलिया, राप्ती-बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर बूढ़ी, राप्ती सिद्धार्थनगर तथा क्वानों चन्द्रीपघाट-गोंडा में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही हैं। वर्तमान में प्रदेश के सभी तटबंध सुरक्षित सूचित किये गये हैं। प्रदेश के वर्षा से प्रभावित कुल 41 जनपदों मंे सर्च एवं रेस्क्यू हेतु एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 तथा पी0ए0सी0 की कुल 59 टीमें तैनाती की गयी है, 4061 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगायी गयी है तथा 912 मेडिकल टीमें लगायी गयी है। एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 द्वारा 35187 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। विगत 24 घंटे में 727 सहित अब तक कुल 67515 ड्राई राशन किट वितरित किए गये हैं। विगत 24 घंटे में 2200 लंच पैकेट सहित अब तक कुल 341075 फूड पैकेट वितरित किए गए हैं। प्रदेश में 1089 बाढ़ शरणालय तथा 1293 बाढ़ चौकी स्थापित की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 912 पशु शिविर स्थापित किये गये हैं। विगत 24 घंटों में पशु टीकाकरण की संख्या 9194 तथा अब तक कुल पशु टीकाकरण की संख्या 586462 है।

उत्तर प्रदेश के राहत आयुक्त श्री रणवीर प्रसाद ने वर्षा की स्थिति से अवगत कराते हुए बताया कि प्रदेश के वर्तमान में सभी तटबन्ध सुरक्षित हैं। गत 24 घंटे में प्रदेश में 2.8 मि0मी0 औसत वर्षा हुई है, जो सामान्य वर्षा से 7.9 मि0मी0 के सापेक्ष 35 प्रतिशत है। इस प्रकार प्रदेश में 01 जून, 2021 से अब तक 561.8 मि0मी0 औसत वर्षा हुई, जो सामान्य वर्षा 596.2 मि0मी0 के सापेक्ष 94 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि शारदा नदी पलियाकलाँ खीरी, घाघरा-बलिया, राप्ती-बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर बूढ़ी, राप्ती सिद्धार्थनगर तथा क्वानों चन्द्रीपघाट-गोंडा में खतरे के जलस्तर से ऊपर बह रही हैं। वर्तमान में प्रदेश के सभी तटबंध सुरक्षित सूचित किये गये हैं। प्रदेश के वर्षा से प्रभावित कुल 41 जनपदों मंे सर्च एवं रेस्क्यू हेतु एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 तथा पी0ए0सी0 की कुल 59 टीमें तैनाती की गयी है, 4061 नावें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगायी गयी है तथा 912 मेडिकल टीमें लगायी गयी है। एन0डी0आर0एफ0, एस0डी0आर0एफ0 द्वारा 35187 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। प्रसाद ने बताया कि विगत 24 घंटे में 727 सहित अब तक कुल 67515 ड्राई राशन किट वितरित किए गये हैं। विगत 24 घंटे में 2200 लंच पैकेट सहित अब तक कुल 341075 फूड पैकेट वितरित किए गए हैं। प्रदेश में 1089 बाढ़ शरणालय तथा 1293 बाढ़ चौकी स्थापित की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 912 पशु शिविर स्थापित किये गये हैं। विगत 24 घंटों में पशु टीकाकरण की संख्या 9194 तथा अब तक कुल पशु टीकाकरण की संख्या 586462 है।

सौर पावर परियोजनाओ से विद्युत क्रय करने के लिए 1005203000 रुपये की धनराशि स्वीकृत

प्रदेश सरकार ने सौर ऊर्जा नीति के अंतर्गत स्थापित की गई सौर पावर परियोजनाओं से उत्पादित विद्युत को उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड द्वारा क्रय करने के लिए प्रोत्साहन हेतु 1005203000 (एक अरब बावन लाख तीन हजार) रुपये की धनराशि स्वीकृत कर दी है। प्रदेश में स्थापित 450 मेगावाट क्षमता की 27 सौर परियोजनाओं से उत्पादित विद्युत को क्रय करने हेतु वर्तमान वित्तीय वर्ष 2021-22 में  21229.00 (दो अरब बारह करोड़ उन्तीस लाख) लाख रुपये की धनराशि का प्रावधान किया गया है। शासन ने निदेशक, उ0प्र0 नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विकास अभिकरण को स्वीकृति धनराशि को नियमानुसार आवश्यक औपचारिकताएं पूर्ण करने के पश्चात व्यय करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही स्वीकृत धनराशि किसी अन्य मद में नहीं खर्च की जाएगी इसके भी निर्देश हैं। स्वीकृत धनराशि को व्यय करने से पहले यह भी सुनिश्चित किया जाए कि पूर्व में किसी अन्य योजना के तहत इस कार्य के लिए धनराशि स्वीकृत नहीं की गई है।

इसे भी पढ़ें: कृषि कानूनों से जुड़े एक सवाल का जवाब भी नहीं दे सके टिकैत, कैमरे के सामने फजीहत होती देख एंकर पर ही करने लगे निजी हमले

पराग के दुग्ध उत्पादों को रियायती दरों पर उपलब्ध कराने से खिलाड़ियों को प्रोत्साहन मिलेगा

उत्तर प्रदेश के पशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास विभाग मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी जी की उपस्थिति में आज प्रदेश के प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ियों के लिए पराग के सभी उत्पाद अत्यन्त रियायती दरों पर उपलब्ध कराने के लिए उ0प्र0 ओलंपिक संघ के महासचिव श्री आनन्देश्वर पाण्डेय तथा लखनऊ दुग्ध संघ के महाप्रबन्धक डा0 मोहन स्वरूप के मध्य सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये गये। यह सुविधा प्रथम चरण में लखनऊ एवं लखनऊ परिक्षेत्र के जनपद सीतापुर, लखीमपुर खीरी, रायबरेली, हरदोई तथा उन्नाव हेतु लागू होगी। इस अवसर पर दुग्ध विकास मंत्री श्री लक्ष्मी नारायण ने कहा कि पराग के दुग्ध उत्पादों को उ0प्र0 ओलंपिक संघ के मान्यता प्राप्त खेलों के खिलाड़ियों को रियायती दरों पर उपलब्ध कराने से खिलाड़ियों को प्रोत्साहन मिलेगा और देश के अन्य राज्य भी इसका अनुकरण करेंगें। उन्होंनें कहा कि अधिक से अधिक खिलाड़ी इस योजना का लाभ उठायें। श्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा कि शीघ्र ही इसे पूरे प्रदेश में भी  लागू किया जायेगा। पशुधन मंत्री ने इस अवसर पर बताया कि प्रदेश में दुग्ध विकास की दिशा में भारत सरकार के सहयोग से राष्ट्रव्यापी कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम प्रदेश के समस्त 75 जनपदों में लागू है और कृषकों व पशुपालकों द्वारा गायों एवं भैसों में 31 मई, 2022 तक पूर्णतः निःशुल्क कृत्रिम गर्भाधान का लाभ उठाया जा सकता है। कार्यक्रम में प्रमुख सचिव, दुग्ध विकास विभाग, श्री सुधीर कुमार गर्ग ने कहा कि उ0प्र0 ओलंपिक संघ द्वारा मान्यता प्राप्त खेलों के सभी अन्तर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय एवं प्रवेश स्तर के खिलाड़ियों द्वारा अपना परिचय-पत्र दिखाने के आधार पर दुग्ध संघ, लखनऊ के माध्यम से सीधे संचालित मिल्क बूथों/पार्लर (1090 चौराहा बूथ, पीसीडीएफ बूथ, सीएसआई टावर मिल्क बूथ, कचहरी मिल्क बूथ, मण्डलायुक्त मिल्क बूथ, पी0जी0आई0 बूथ, पुरानी डेरी जापलिंग रोड मिल्क बूथ, नई डेयरी चक गजरिया मिल्क बूथ) से पराग दुग्ध एवं उत्पाद, रियायती दरों पर पाने के पात्र होगें। लखनऊ दुग्ध संघ के महा प्रबन्धक डा0 मोहन स्वरूप ने कहा कि संघ द्वारा मान्यता प्राप्त सभी खेलों के मान्यता प्राप्त प्रशिक्षको को सुविधा मिलेगी, यदि उ0प्र0 ओलंपिक संघ द्वारा के0डी0सिंह बाबू स्टेडियम लखनऊ या अन्य क्रीडा संकुलों में भी निःशुल्क (10ग10 वर्गफीट) का स्थान उपलब्ध कराया जाता है तो उन स्थानों पर दुग्ध संघ लखनऊ द्वारा खिलाड़ियों के लिए स्थाई अथवा अस्थाई कैन्टीन/मिल्क बूथ/मिल्क पार्लर संचालित कर वहॉ के खिलाड़ियों द्वारा रियायती दरों पर दुग्ध एवं दुग्ध उत्पाद क्रय किया जा सकेगा। यह सुविधा प्रथम चरण में लखनऊ एवं लखनऊ परिक्षेत्र के जनपद इस अवसर पर उ0प्र0 ओलंपिक संघ के  महासचिव श्री आनन्देश्वर पाण्डेय ने पराग के सभी उत्पाद अत्यन्त रियायती दरों पर उपलब्ध कराने के लिए लखनऊ दुग्ध संघ का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में श्री शशिभूषण लाल सुशील, दुग्ध आयुक्त, श्री वीरेन्द्र कुमार सिंह, प्रबन्ध निदेशक, पी0सी0डी0एफ0, श्री सुधीर एम0 बोबडे़, सदस्य (न्यायिक) राजस्व परिषद तथा श्री रवि शंकर गुप्ता, मुख्य महाप्रबन्धक, पी0सी0डी0एफ0 तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

मंत्री नन्दी और महापौर ने 34.59 लाख रूपये के विकास कार्यों का किया लोकार्पण

उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन, अल्पसंख्यक कल्याण, राजनैतिक पेंशन, मुस्लिम वक्फ एवं हज मंत्री व प्रयागराज शहर दक्षिणी विधायक नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी और प्रयागराज की महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी ने शुक्रवार को नैनी के विभिन्न क्षेत्रों में विधायक निधि योजनान्तर्गत 34.59 लाख रुपये की लागत से बने विकास कार्याे का लोकार्पण किया। इस दौरान लोगों ने मंत्री नन्दी और महापौर का स्वागत किया। वहीं नैनी क्षेत्र के अति पिछड़े इलाकों में लगातार कराए जा रहे विकास कार्यों की प्रशंसा की। नैनी के जिन इलाकों में लोगों को कच्ची सड़कें व गलियां होने से लोगों को आने-जाने में दिक्कत होती थी। नाली न होने से जलभराव की समस्या होती थी, नाली बनने  और इंटरलॉकिंग का कार्य होने से अब वह समस्या दूर हो गई है, जिसके लिए जनता ने प्रसन्नता जताई। मंत्री नन्दी और मेयर ने आज विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण किया, जिसमें चकलाल मोहम्मद एफ सी आई गेट के पीछे कपिल देव शर्मा के मकान से आर.सी. दुबे के मकान से होते हुए अशोक तिवारी व मनीष राय के मकान तक 5.38 लाख रूपये की लागत से नाली एवं इंटरलॉकिंग का कार्य किया गया। चकलाल मोहम्मद एफ सी आई के सामने पीपल पेड़ के पास से माला के मकान होते हुए मुख्य मार्ग तक 4.03 लाख रूपये की लागत से नाली एवं इंटरलॉकिंग कार्य का उदघाटन किया गया। । इसी प्रकार चकलाल मोहम्मद एफ. सी. आई. के भास्कर के मकान से उर्मिला जी के मकान तक    07.05 लाख रूपये की लागत से नाली एवं इंटरलॉकिंग का कार्य का उदघाटन किया गया। चकलाल मोहम्मद एफ. सी. आइ. के सामने भास्कर के मकान से सोहन लाल के मकान तक 06.54 लाख रूपये की लागत से नाली एवं इंटरलॉकिंग के कार्य का उदघाटन किया गया । दरियाबाद मीरापुर में शिवम सक्सेना के मकान से लेकर अवनीश शुक्ला के मकान तक 04.93 लाख रूपये की लागत से सी.सी. रोड एवं नाली के कार्य का उदघाटन, कृष्णा नगर कीडगंज में गगन शुक्ला के मकान से इशू सोनकर के मकान तक 06.66 लाख रूपये की लागत से नाली एवं इंटरलॉकिंग मार्ग का उदघाटन किया गया। इस अवसर पर दिलीप केसरवानी, पूर्व पार्षद अवनीश शुक्ला, पार्षद अकीलूर रहमान, पार्षद जगमोहन गुप्ता, नामित पार्षद अनूप मिश्रा, महानगर उपाध्यक्ष प्रमोद जायसवाल, काशीक्षेत्र हर्ष केसरी, पार्षद प्रतिनिधि मुकेश सविता भारती, गौरव मिश्रा, मनोज गुप्ता, सुभाष बाजपेयी, शिवम सक्सेना, मनीष कुशवाहा, रंजीत भारतीय, प्रह्लाद सिंह, अल्का गौड़, रेहान खान, तौशीफ अहमद, निखलेश हेला, अनूप केसरवानी, राकेश जायसवाल, रवि मिश्रा, रजत दुबे, समर बहादुर सिंह आदि मौजूद रहे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़