मोदी ने पहले भारत-सिंगापुर हैकाथन के विजेताओं को किया सम्मानित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 15, 2018   15:35
मोदी ने पहले भारत-सिंगापुर हैकाथन के विजेताओं को किया सम्मानित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को यहां पहले भारत-सिंगापुर हैकाथन के छह विजेता दलों को सम्मानित किया। इनमें तीन दल भारतीय रहे। उन्होंने कहा कि भारत-सिंगापुर हैकाथन युवाओं के लिए अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने का एक मंच है।

सिंगापुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को यहां पहले भारत-सिंगापुर हैकाथन के छह विजेता दलों को सम्मानित किया। इनमें तीन दल भारतीय रहे। उन्होंने कहा कि भारत-सिंगापुर हैकाथन युवाओं के लिए अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने का एक मंच है। इससे प्रौद्योगिकी, नवप्रवर्तन तथा युवा शक्ति को प्रोत्साहन मिला है। हैकाथन का निर्णयक दौर 36 घंटे चला जिसमें भारत और सिंगापुर के तीन-तीन दलों ने भाग लिया। मोदी ने जून में सिंगापुर की आधिकारिक यात्रा के दौरान सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सिएन लूंग के समक्ष संयुक्त हैकाथन का प्रस्ताव रखा था। प्रधानमंत्री ली ने इस प्रस्ताव का स्वागत किया था।

मोदी ने ट्वीट में कहा, ‘‘यह प्रौद्योगिकी, नवोन्मेष और युवा शक्ति को प्रोत्साहन है। पहले भारत-सिंगापुर हैकाथन में जीतने वाले नवोन्मेषियों से मिलकर खुशी हुई। उन्होंने अपने गहन कार्यों के बारे में चर्चा की। मैं उनके उत्साह और विश्व के समक्ष उपस्थित चुनौतियों का समाधान खोजने की उनकी प्रतिबद्धता से प्रभावित हुआ ।’’मोदी ने पुरस्कार वितरण समारोह में विजयी दलों को सम्मानित किया। इस दौरान सिंगापुर के शिक्षा मंत्री ओंग ये कुंग भी उपस्थित रहे। पहले स्थान पर रहे दो दलों को 10-10 हजार सिंगापुर डॉलर, दूसरे स्थान पर रहे दो दलों को 6-6 हजार सिंगापुरी डॉलर और तीसरे स्थान पर रहे दलों को 4-4 हजार सिंगापुरी डॉलर का पुरस्कार मिला।

सिंगापुर के भारतीय उच्चायोग ने बताया कि विजयी भारतीय दलों में आईआईटी खड़गपुर, एनआईटी त्रिची और एमआईटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग पुणे शामिल थे। मोदी ने कहा, ‘‘सिंगापुर-भारत हैकाथन जैसे मंच युवाओं को अपना कार्य प्रदर्शित करने का सुनहरा अवसर देते हैं। ये अन्य देशों एवं संस्थानों से युवाओं को नवोन्मेष सीखने का भी मौका देते हैं।’’ विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत-सिंगापुर हैकाथन के विजेता दलों से मुलाकात की और उन्हें सम्मानित किया। इस बात को लेकर सिंगापुर के प्रधानमंत्री की जून 2018 में भारत यात्रा के दौरान सहमति बनी थी।’’ इस हैकाथन का आयोजन सिंगापुर के नान्यांग टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।