देश में जो 67 साल में विकास नहीं हुआ वो 4 साल में करके दिखाया: रघुवर दास

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 18, 2019   11:43
देश में जो 67 साल में विकास नहीं हुआ वो 4 साल में करके दिखाया: रघुवर दास

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश और राज्य लगातार आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि झारखण्ड अब विकास के लिए जाना जाता है न कि भ्रष्टाचार के लिए।

हजारीबाग। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने रविवार को कहा कि देश में जो 67 साल में विकास नहीं हुआ वो मोदी सरकार ने चार साल में करके दिखाया और झारखण्ड को भी डबल ईंजन की सरकार से बहुत लाभ हुआ है और यहां विकास तेजी से हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड वीरों की भूमि रही है। पुलवामा के शहीद विजय सोरेंग ने राज्य की बलिदानी परंपरा को कायम रखा। उन्हें नमन और श्रद्धांजलि।

रघुवर दास ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में देश और राज्य लगातार आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि झारखण्ड अब विकास के लिए जाना जाता है न कि भ्रष्टाचार के लिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज झारखण्ड को विकास के नाम से जाना जाता है। वर्तमान सरकार ने अपने कार्यकाल में एक भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगने दिया। नक्सलवाद मुक्ति, भ्रष्टाचार मुक्ति की ओर झारखण्ड बढ़ रहा है। 

इसे भी पढ़ें: पुलवामा हमले पर बोले दास, पाकिस्तान को उसके घर में घुस कर जवाब देंगे

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि 14 साल के शासनकाल की तुलना यदि चार साल से करें तो बहुत कुछ बदला है। सरकार यह नहीं कहती कि हमने सबकुछ बदल दिया, लेकिन लोगों को बिजली, पानी और आवागमन का साधन उपलब्ध हो इस दिशा में कार्य हुए हैं। दास ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सड़क, जलमार्ग, वायुमार्ग से झारखण्ड को बहुत बेहतर ढंग से जोड़ा गया है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद रिकॉर्ड समय दो साल में तीन मेडिकल कॉलेज तैयार किये गये और इनमें इसी वर्ष जून माह से पढ़ाई शुरू होगी। देवघर में एम्स का निर्माण कार्य जारी है। कोडरमा और चाईबासा मेडिकल कॉलेज की भी आधारशिला रखी जा चुकी है। आठ सौ पचासी करोड़ की लागत से तीन मेडिकल कॉलेज का शुभारंभ हुआ। चार अन्य अस्पतालों का शिलान्यास हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कृषि आशीर्वाद योजना

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री का सपना है देश को कुपोषण मुक्त बनाना। इस निमित ‘कान्हा दूध योजना’ का शुभारंभ किया जा रहा है। इस योजना के प्रथम चरण में लोहरदगा, सिमडेगा हजारीबाग समेत छः जिलों को शामिल किया गया है। जहां प्रतिदिन बच्चों को उनके स्वास्थ्य वर्धन हेतु 200 मिली दूध उपलब्ध कराया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि 5 लाख 28 हजार आवास का निर्माण प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत राज्य में किया गया है। तीन लाख 25 हजार और आवास बनाने की स्वीकृति केंद्र सरकार ने दे दी है। 2022 तक अतरिक्त पांच लाख घर बनाने की योजना है। 

दास ने कहा कि हजारीबाग में अमृत योजना के तहत 517 करोड़ रुपये की पेयजलापूर्ति योजना का शिलान्यास हुआ है। आदिम जनजाति परिवार के लिए 200 करोड़ की योजना से 78 हजार परिवार तक शुद्ध जल पहुंचाया जाएगा। अनुसूचित जाति व जनजाति क्षेत्र में मिनी पाइपलाइन जलापूर्ति योजना के जरिये जलापूर्ति प्रारम्भ करने की योजना है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।