• आंध्र प्रदेश में कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान सर्वाधिक नए मामले आए सामने

कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान आंध्र प्रदेश में संक्रमण के सर्वाधिक नए मामले सामने आए। आंध्र प्रदेश में मार्च से लेकर सितम्बर 2020 के बीच कोविड-19 की पहली लहर के दौरान मामले पांच लाख के पार चले गए थे, लेकिन दूसरी लहर के दौरान अकेले मई 2021 में 5.71 लाख मामले सामने आए हैं।

अमरावती। कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान आंध्र प्रदेश में संक्रमण के सर्वाधिक नए मामले सामने आए। आंध्र प्रदेश में मार्च से लेकर सितम्बर 2020 के बीच कोविड-19 की पहली लहर के दौरान मामले पांच लाख के पार चले गए थे, लेकिन दूसरी लहर के दौरान अकेले मई 2021 में 5.71 लाख मामले सामने आए हैं। आंकड़ों के अनुसार, मई 2021 की शुरुआत में राज्य में संक्रमण के 11.21 लाख मामले थे, जो माह अंत तक 16,93,085 हो गए। 25 मई तक हर पांच दिन में एक लाख मामले सामने आए। हालांकि इनमें एक बार फिर कमी दर्ज की जा रही है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना के बाद चीन में आया बर्ड फ्लू के H10N3 स्ट्रेन से संक्रमित होने का पहला मामला

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, राज्य में एक महीने में 5.46 लाख लोग संक्रमण मुक्त हुए और 2,877 लोगों की इससे मौत हुई। आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल एक से 31 अगस्त के बीच संक्रमण की पहली लहर के दौरान 2.84 लाख मामले सामने आए थे, जिनमें से 2.53 लाख लोग संक्रमण मुक्त हुए और 2,562 लोगों की इससे मौत हुई। तब नमूनों के संक्रमित आने की दर 16.89 प्रतिशत तक पहुंच गई थी लेकिन इस साल मई में यह दर 25.56 (16 मई को) प्रतिशत हो गई थी। आंकड़ों के अनुसार, पांच मई को एक दिन में सर्वाधिक 1.16नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई।

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 महामारी के भीषण प्रकोप से विनिर्माण क्षेत्र में आई जोरदार गिरावट: PMI

16 मई को सर्वाधिक24,171 नए मामले सामने आए और 19 मई को सर्वाधिक 24,819 लोग संक्रमण मुक्त हुए और 22 मई को सर्वाधिक 118 लोगों की संक्रमण से मौत हुई। 16 मई से 20 मई के बीच कोविड-19 के एक लाख से अधिक मामले सामने आए थे। 17 मई को उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी सर्वाधिक 2.11 लाख पर पहुंच गई थी। प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि जनसंख्या के अनुपात में ग्रामीण क्षेत्रों में एक लाख पर 186 व्यक्ति जबकि शहरी क्षेत्रों में एक लाख पर 263 लोग संक्रमित हुए। अनिल ने बताया कि वहीं पिछले सप्ताह ग्रामीण इलाकों में एक लाख पर 247.8 और शहरी इलाकों में एक लाख पर 383.7 लोग संक्रमित थे।