तमिलनाडु में एक दिन में संक्रमण के सर्वाधिक नये मामले, 98 लोगों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 29, 2021   11:20
तमिलनाडु में एक दिन में संक्रमण के सर्वाधिक नये मामले, 98 लोगों की मौत

इसमें कहा गया है कि प्रदेश में बुधवार को कुल 16,665 नये मामले सामने आये जिससे यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 11,30,167 हो गयी है। इसमें कहा गया है कि प्रदेश में 15,114 लोग ठीक हुये हैं जिसके साथ ही संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 10,06,033 हो गयी है।

चेन्नई। त​मिलनाडु में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 16 हजार से अधिक नये मामले सामने आये जो महामारी की शुरूआत के बाद से एक दिन की सर्वाधिक संख्या है। प्रदेश में इसके साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 11.30 लाख पर पहुंच गयी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में यह जानकारी दी गयी है। बुलेटिन में कहा गया है कि प्रदेश में बीमारी से और 98 लोगों की मौत हो गयी जिसके बाद यहां मरने वालों की तादाद बढ़ कर 13826 हो गयी है। इसमें कहा गया है कि प्रदेश में बुधवार को कुल 16,665 नये मामले सामने आये जिससे यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़ कर 11,30,167 हो गयी है। इसमें कहा गया है कि प्रदेश में 15,114 लोग ठीक हुये हैं जिसके साथ ही संक्रमण मुक्त होने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 10,06,033 हो गयी है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के 1 दिन में 3.79 लाख मामले, एक्टिव केस 31 लाख के करीब

प्रदेश में अभी 1,10,308 मरीज उपचाराधीन हैं। इसमें कहा गया है कि नये संक्रमितों में से 33 लोग जम्मू कश्मीर समेत अन्य स्थानों से वापस लौटे हैं। बुलेटिन के अनुसार चेन्नई में सबसे अधिक 4,764 नये मामले सामने आये हैं। इस बीच बृहद चेन्नई नगर निगम ने बुधवार को कहा कि निजी अस्पताल एवं होटल कोविड देखभाल केंद्र स्थापित कर सकते हैं और इसके लिये उन्हें निगम से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है। निगम आयुक्त जी प्रकाश ने संक्षिप्त बयान जारी कर बताया कि ई—मेल के माध्यम से सूचना देना ही पर्याप्त है और कोविड देखभाल केंद्र स्थापित करने के लिये अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि निजी होटल एवं अस्पताल आवश्यक सुविधाओं के साथ कोविड देखभाल केंद्र शुरू कर सकते हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।