• असम में बदला राजीव गांधी राष्ट्रीय पार्क का नाम, कांग्रेस ने सीएम हिमंत बिस्वा सरमा पर साधा निशाना

अंकित सिंह Sep 02, 2021 17:18

कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने भी मौजूद सरकार पर हमला बोला। गौरव गोगोई ने कहा कि कांग्रेस की सरकार आएगी तो बीजेपी सरकार के फैसले को रद्द करके फिर से ओरांग राष्ट्रीय उद्यान का नाम बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर रखा जाएगा।

असम सरकार की ओर से राजीव गांधी राष्ट्रीय उद्यान का नाम बदलकर अब ओरांग राष्ट्रीय उद्यान करने के बाद वहां की राजनीति तेज हो गई है। कांग्रेस लगातार असम सरकार पर हमलावर है। कांग्रेस की ओर से लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि जो व्यक्ति असम का CM बना बैठा है, जो कहा करता था कि राजीव गांधी की वजह से राजनीति में हूं। उनका नाम मिटाकर क्या समझता है कि मिट जाएगा। पार्कों से शहीदों का नाम मिटाकर कुछ हासिल नहीं होने वाला।

कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने भी मौजूद सरकार पर हमला बोला। गौरव गोगोई ने कहा कि कांग्रेस की सरकार आएगी तो बीजेपी सरकार के फैसले को रद्द करके फिर से ओरांग राष्ट्रीय उद्यान का नाम बदलकर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के नाम पर रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति हमें आरएसएस के विपरीत शहीदों का सम्मान करना सिखाती है। आपको बता दें कि हिमंत बिस्वा सरमा के नेतृत्व में आशा मंत्रिमंडल ने बुधवार को ओरांग राष्ट्रीय उद्यान के नाम से राजीव गांधी का नाम हटा दिया था। कई सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री सरमा ने कहा कि आदिवासियों और चाय जनजाति समुदायों की मांगों को ध्यान में रखते हुए राजीव गांधी ओरांग राष्ट्रीय उद्यान का नाम बदला गया है। एक और ट्वीट में हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा "हवा साफ करना चाहते हैं। ओरंग राष्ट्रीय उद्यान का नाम नहीं बदला गया है। असम में किसी भी राष्ट्रीय उद्यान का नाम किसी व्यक्ति के नाम पर नहीं है। 2005 में सरकार ने इस परंपरा को तोड़ा और पूर्व पीएम राजीव गांधी का नाम चिपका दिया। स्थानीय भावनाओं का सम्मान करने के लिए मूल नाम बहाल।"