Prabhasakshi's NewsRoom । आतंकियों के निशाने पर गैर-कश्मीरी, किसानों का रेल रोको आंदोलन

Prabhasakshi's NewsRoom । आतंकियों के निशाने पर गैर-कश्मीरी, किसानों का रेल रोको आंदोलन

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) लखीमपुर हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग को लेकर ‘रेल रोको’ आंदोलन कर रहा है।

कश्मीर में बौखलाए आतंकियों ने अब गैर कश्मीर को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। सवाल यही है कि आखिर यह कब रुकेगा? आखिर आतंकी अपनी इस कायराना हरकत से क्या संदेश देना चाहते हैं? जाहिर सी बात है इस तरह की घटनाओं के बाद अब कश्मीर में सुरक्षाबलों की सख्ती और बढ़ेगी। इसके बारे में हम आपको और भी बताएंगे। लेकिन साथ ही साथ यह भी बताएंगे कि केरल में कुदरत का कहर बरपा है जिससे कि 26 लोगों की अब तक जान चली गई है। आज किसानों का रेल रोको आंदोलन है। इसका मतलब साफ है कहीं ना कहीं किसान अपने आंदोलन को धार देने की कोशिश में हैं। 

इसे भी पढ़ें: कश्मीर का राजनीतिक विमर्श बदल गया है; स्वायत्तता की जगह लोकतंत्र, विकास ने ले लिया है: राम माधव

कश्मीर में हत्या

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में रविवार को आतंकवादियों ने बिहार के दो मजदूरों की उनके किराए के मकान में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी और एक अन्य को घायल कर दिया। इस घटना के बाद पुलिस ने निर्देश दिया कि गैर स्थानीय मजदूरों को ‘तत्काल’नजदीकी सुरक्षा शिविरों में लाया जाये। जम्मू कश्मीर में 24 घंटे से भी कम समय में गैर-स्थानीय मजदूरों पर यह तीसरा हमला है। बिहार के एक रेहड़ी-पटरी वाले और उत्तर प्रदेश के एक बढ़ई की शनिवार शाम को आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस महीने अब तक नागरिकों को निशाना बनाकर की गई गोलीबारी में 11 लोगों की मौत हो चुकी है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जम्मू कश्मीर के वानपोह में हुये आतंकवादी हमले में बिहार के रहने वाले राजा ऋषिदेव और योगेन्द्र ऋषिदेव की हत्या एवं चुनचुन ऋषिदेव के घायल होने पर दुख जताते हुए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से फोन पर वार्ता कर अपनी चिन्ता व्यक्त की है। 

केरल में भूस्खलन

केरल के दो जिलों में भारी बारिश और भूस्खलन की घटनाओं में मृतकों की संख्या बढ़कर 26 हो गयी। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्थिति से निपटने के लिए राज्य को मदद की पेशकश की है। बारिश प्रभावित विभिन्न इलाकों से 26 शव बरामद किए गए। सबसे ज्यदा कोट्टायम और इडुक्की जिला प्रभावित है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की टीम ने बचाव अभियान जारी रखा है। अधिकारियों ने बताया कि कोट्टायम और इडुक्की जिलों के पर्वतीय इलाकों में शनिवार को भारी बारिश के बाद अचानक आई बाढ़ एवं भूस्खलन से लोगों की मौत हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन से फोन पर बात की और बारिश के कारण उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की। मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन से बातचीत की और केरल में भारी बारिश तथा भूस्खलन के मद्देनजर स्थिति पर विचार-विमर्श किया। अधिकारी घायलों और प्रभावितों की सहायता के लिए काम कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में इमरजेंसी एडवाइजरी जारी, पुलिस और सेना कैंप में लाए जाएंगे गैर- कश्मीरी मजदूर

रेल रोको आंदोलन

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) लखीमपुर हिंसा के मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा की बर्खास्तगी और गिरफ्तारी की मांग को लेकर ‘रेल रोको’ आंदोलन कर रहा है। रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर अमृतसर के देवीदास पुरा गांव में प्रदर्शनकारी रेलवे ट्रैक पर बैठ गए हैं। ‘रेल रोको’ आंदोलन का सबसे ज्यादा असर पंजाब में देखने को मिल रहा है जिसकी वजह से कई ट्रेनों के आवागमन पर असर पड़ा है। सोनीपत जंक्शन रेलवे स्टेशन पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किया गया है। प्रदर्शनकारी गाजियाबाद और बहादुरगढ़ में रेलवे ट्रैक पर बैठे गए हैं। किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन पर राकेश टिकैत ने कहा कि ये अलग-अलग ज़िलों में अलग-अलग जगह होगा। पूरे देश में वहां के लोगों को पता रहता है ​कि हमें कहां ट्रेन रोकनी है। भारत सरकार ने अभी हमसे कोई बात नहीं की है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।