शौचालय का गेट समझ खोला ट्रेन के एग्जिट का दरवाजा, 10 साल के बच्चे की गिरकर मौत

शौचालय का गेट समझ खोला ट्रेन के एग्जिट का दरवाजा, 10 साल के बच्चे की गिरकर मौत

मृतक की पहचान मलपुरम मम्बडपल्लीपदम के मूल निवासी कंदनथोटका सिद्दीकी के बेटे ईशान के रूप में हुई है।बता दें कि हादसा सोमवार रात 11.30 बजे हुआ जब बच्चे ने ट्रेन के निकास द्वार को गलती से शौचालय का दरवाजा समझ लिया और गेट को खोल दिया जिससे उसकी पकड़ छूट गई और वह बाहर गिर गया।

केरल के एक शहर कोट्टायम से बड़ी ही दर्दनाक खबर सामने आ रही है। अग्रेंजी अखबार TOI में छपी एक खबर के मुताबिक, चलती ट्रेन से गिरकर 10 साल के एक बच्चे की दर्दनाक मौत हो गई। मृतक की पहचान मलपुरम मम्बडपल्लीपदम के मूल निवासी कंदनथोटका सिद्दीकी के बेटे ईशान के रूप में हुई है।बता दें कि हादसा सोमवार रात 11.30 बजे हुआ जब बच्चे ने ट्रेन के निकास द्वार को गलती से शौचालय का दरवाजा समझ लिया और गेट को खोल दिया जिससे उसकी पकड़ छूट गई और वह बाहर गिर गया।

इसे भी पढ़ें: 55 वर्षीय दलित महिला के साथ हुआ सामूहिक बलात्कार, आरोपी अब भी फरार

परिजन ने जल्दी से चेन खींचकर ट्रेन को रोका। पटरियों के किनारे की गई तलाशी में स्थानीय लोगों और परिवार को बच्चे का मृत शरीर मिला। ईशान की कोचुवेली-नीलांबुर रोड राज्यरानी एक्सप्रेस ट्रेन से गिरकर मौत हुई और घटना तब हुई जब ईशान तिरुवनंतपुरम में एक शादी में शामिल होने के बाद अपने परिवार के साथ लौट रहा था। परिजनों के मुताबिक, ईशान ने गलती से शौचालय के दरवाजे की जगह एग्जिट का दरवाजा खोल दिया था। हालांकि ट्रेन रुकने के बाद लड़के को अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।