• अफवाहों पर पंकजा मुंडे ने लगाया विराम, कहा- कभी मंत्रीपद की मांग नहीं की, किसी से मतभेद नहीं

अंकित सिंह Jul 09, 2021 16:54

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने भी उन अफवाहों का खंडन किया जिसमें दावा किया जा रहा था कि प्रीतम मुंडे को मंत्रिपरिषद में शामिल नहीं करने को लेकर बहन पंकजा मुंडे नाराज हैं।

बहुप्रतीक्षित मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार बुधवार को हो गया। हालांकि, कई ऐसे चेहरे रहे जिनका नाम तो मंत्री पद की रेस में चल रहा था पर उन्हे मौका नहीं मिल पाया। इन्हीं में एक नाम गोपीनाथ मुंडे की बेटी प्रीतम मुंडे का था। प्रीतम मुंडे को मोदी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया। हालांकि उनका नाम मंत्री पद की रेस में काफी पहले से चल रहा था। प्रीतम मुंडे को मंत्री पद नहीं मिलने के बाद यह खबर तेजी से फैल रही थी कि पंकजा मुंडे नाराज हैं। इसको लेकर पंकजा मुंडे ने अब अपनी चुप्पी तोड़ी है।

पंकजा मुंडे ने साफ तौर पर कहा कि प्रीतम मुंडे और वह कभी भी मंत्री पद की मांग नहीं कर रहे थे। जिन लोगों ने शपथ ली है उनसे कोई मतभेद नहीं है। यह अफवाह फैलाई जा रही थी कि बहन प्रीतम मुंडे को मंत्रिपरिषद में जगह नहीं मिलने के कारण पंकजा मुंडे नाराज हैं। वहीं, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने भी उन अफवाहों का खंडन किया जिसमें दावा किया जा रहा था कि प्रीतम मुंडे को मंत्रिपरिषद में शामिल नहीं करने को लेकर बहन पंकजा मुंडे नाराज हैं। हालांकि लगातार पंकजा मुंडे की नाराजगी को लेकर खबरें आती रहती हैं और हर बार उन्हें सफाई देनी पड़ती है। आपको यह भी बता दें कि पंकजा मुंडे और प्रीतम मुंडे भाजपा के वरिष्ठ नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटियां हैं।