मध्य प्रदेश से गुजरात में पलायन कर गए मतदाताओं को लाने के लिए दल हुए रवाना

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 17 2019 5:24PM
मध्य प्रदेश से गुजरात में पलायन कर गए मतदाताओं को लाने के लिए दल हुए रवाना
Image Source: Google

उन्होंने कहा कि प्रशासन का पूरा प्रयास है कि गुजरात में रह रहे ग्रामीण महिला पुरुष मतदाता परिवार सहित यहां आये और अपने मताधिकार का प्रयोग करें ताकि जिले में अधिक से अधिक मतदान हो सके।

झाबुआ। मध्य प्रदेश के आदिवासी बहुल झाबुआ जिले से रोजी रोटी के लिए मजदूरी करने गुजरात के कई शहरों में पलायन करने वाले ग्रामीणों को मतदान के लिए अपने-अपने गांवों के मतदान केन्द्रों पर लाने के लिये जिला प्रशासन ने विभिन्न शहरों के लिये अपने दलों को रवाना किया है। कलेक्टर प्रबल सिपाहा ने बताया कि स्वीप कार्यक्रम के तहत जिले से बाहर मजदूरी करने गये मजदूरों को 19 मई को लोकसभा चुनाव के लिए मतदान करने अपने विधानसभा क्षेत्र के बूथ पर आने के लिए प्रेरित करने के वास्ते 16 मई को प्रशासन के दलों को रवाना किया गया है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका में गर्भवती किशोरी की हत्या कर गर्भ से बच्चा निकाला

उन्होंने बताया कि ये दल मजदूरों के काम करने वाले संस्थान के मालिकों से झाबुआ जिले के मजदूरों को सवैतनिक अवकाश दिये जाने के विषय में चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रशासन का पूरा प्रयास है कि गुजरात में रह रहे ग्रामीण महिला पुरुष मतदाता परिवार सहित यहां आये और अपने मताधिकार का प्रयोग करें ताकि जिले में अधिक से अधिक मतदान हो सके। सिपाहा ने बताया कि गुजरात के विभिन्न शहरों में जिले के कई गांवों और फलियों (छोटे गांव) से मजदूरी करने गए मजदूरों की संख्या हजारों में है। प्रशासन के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार कुल 38,000 मजदूर जिले से पलायन कर विभिन्न शहरों में रह रहें हैं। प्रशासन के दल इनसे संपर्क कर 19 मई के मतदान के लिये इन्हें अपने गृह स्थान पर आने के लिये समझायेंगे।
उन्होंने बताया कि गुजरात के अहमदाबाद में 5604, गांधीनगर में 284, मोरबी में 4500, सूरत में 3245, भरूच (अंकलेश्वर) में 2945, जामनगर में 5455, बडौदा में 5700, राजकोट में 3624, कोटा में 5500, उदयपुर में 1150 और रावतभाटा (राजस्थान)में कार्यरत जिले के 350 मजदूरों से संपर्क कर उन्हें 19 मई को अपने बूथ पर वोट डालने आने के लिये आमंत्रित किया जाएगा। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video