ऊंचे खानदान में पैदा होने से PM मोदी को अपशब्द कहने का हक नहीं मिल जाता: रक्षा मंत्री

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 4 2019 7:14PM
ऊंचे खानदान में पैदा होने से PM मोदी को अपशब्द कहने का हक नहीं मिल जाता: रक्षा मंत्री
Image Source: Google

रक्षा मंत्री के जवाब के बाद राहुल गांधी को दोबारा स्पष्टीकरण का मौका नहीं दिये जाने और सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को बोलने की अनुमति नहीं दिये जाने पर असंतोष जताते हुए कांग्रेस सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया।

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मामले में सरकार पर लगाये जा रहे आरोपों को खारिज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा कि ‘‘खानदान का नाम पीछे जुड़ा होने से प्रधानमंत्री को अपशब्द कहने का हक नहीं मिल जाता।’’ सदन में राफेल मुद्दे पर हुई चर्चा के जवाब में सीतारमण ने कांग्रेस और कांग्रेस अध्यक्ष के सभी आरोपों को खारिज कर दिया। रक्षा मंत्री के जवाब के बाद राहुल गांधी को दोबारा स्पष्टीकरण का मौका नहीं दिये जाने और सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को बोलने की अनुमति नहीं दिये जाने पर असंतोष जताते हुए कांग्रेस सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया।



 
सदन में रक्षा मंत्री के बयान पर स्पष्टीकरण मांगते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि ‘ मैं रक्षा मंत्री सीतारमण या पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर पर आरोप नहीं लगा रहा हूं। मेरा सीधा आरोप प्रधानमंत्री मोदी पर है और मैं स्पष्ट कहता हूं कि वह इस मामले में शामिल हैं।’उन्होंने पूछा कि रक्षा मंत्री इस सवाल का जवाब दें कि एचएएल के बजाय अनिल अंबानी को सौदा दिलाने का निर्णय किसने लिया। संप्रग के समय जिन एल-1 श्रेणी के विमानों का दाम 560 करोड़ रुपये था, वह आपके समय 1600 करोड़ रुपये कैसे हो गया।
 



 
बोफोर्स के कारण कांग्रेस की सत्ता गई, राफेल नरेन्द्र मोदी को दोबारा सत्ता में लायेगा: निर्मला सीतारमण
 


कांग्रेस नीत संप्रग सरकार पर रक्षा एवं राष्ट्रहित से जुड़े मुद्दों से समझौता करने का आरोप लगाते हुए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि बोफोर्स एक घोटाला था जिसके कारण कांग्रेस की सत्ता चली गई जबकि राफेल मामला प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सत्ता में दोबारा लायेगा। राफेल मुद्दे पर लोकसभा में हुई चर्चा का जवाब देते हुए सीतारमण ने राफेल विमानों की कीमत, एचएएल को आफसेट में शामिल नहीं किये जाने, कंपनी विशेष को फायदा पहुंचाने एवं प्रक्रियाओं का पालन नहीं करने सहित विपक्षी दलों के सभी आरोपों का ‘बिन्दुवार’ जवाब दिया और दावा किया कि कांग्रेस के सरकार के दौरान रक्षा एवं राष्ट्रहित की अनदेखी गई।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video