NCC कार्यक्रम में बोले PM मोदी- युवा देश की है पहचान, सोच को युवा बनाना हमारा दायित्व

NCC कार्यक्रम में बोले PM मोदी- युवा देश की है पहचान, सोच को युवा बनाना हमारा दायित्व

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने पाकिस्तान पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश भारत से प्रॉक्स वॉर लड़ रहा है। आजादी के बाद से ही कश्मीर में समस्या बनी हुई है। तत्कालीन सरकारों को घेरते हुए पीएम ने कहा अगर अनुच्छेद 370 अस्थाई था तो उसे हटाया क्यों नहीं गया?

दिल्ली के करिअप्पा परेड ग्राउंड पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एनसीसी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे। पीएम मोदी एनसीसी कैडेट्स को संबोधित करते हुए जम्मू कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि 70 साल बाद वहां से आर्टिकल 370 को हटाया गया। हम जानते हैं कि हमारा पड़ोसी देश हमसे तीन-तीन युद्ध हार चुका है। हमारी सेनाओं को उसे धूल चटाने में हफ्ते-दस दिन से ज्यादा समय नहीं लगता। जो लोग काम चलाने वाली प्रवृत्ति के होते हैं उनके लिए कल कभी नहीं आता। इस स्थिति को मेरे आज का युवा भारत, मेरे भारत का युवा, स्वीकारने के लिए तैयार नहीं है। वो छटपटा रहा है कि स्वतंत्रता के इतने साल हो गए, चीजें कब तक ऐसे ही चलती रहेंगी? आज विश्व में हमारे देश की पहचान, युवा देश के रूप में है। देश के 65% से ज्यादा लोग 35 वर्ष से कम उम्र के हैं। देश युवा है, इसका हमें गर्व है, लेकिन देश की सोच युवा हो, ये हमारा दायित्व होना चाहिए। आज युवा सोच है। युवा मन के साथ देश आगे बढ़ रहा है और इसलिए वह सर्जिकल स्ट्राइक करता है, एयर स्ट्राइक करता है और आतंक के सरपरस्तों को उनके घर में जाकर सबक सिखाता है। इसका परिणाम आप भी देख रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: प्रवेश वर्मा का विवादित बयान, वे आपकी बहन-बेटियों से करेंगे रेप, कल मोदी-शाह बचाने नहीं आएंगे

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने पाकिस्तान पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश भारत से प्रॉक्स वॉर लड़ रहा है। आजादी के बाद से ही कश्मीर में समस्या बनी हुई है। तत्कालीन सरकारों को घेरते हुए पीएम ने कहा कि अगर अनुच्छेद 370 अस्थाई था तो उसे हटाया क्यों नहीं गया? पड़ोसी देश को हराने में 10 दिन भी नहीं लगेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...