J&K में राजनीतिक हलचल तेज, महबूबा मुफ्ती ने पेश किया सरकार बनाने का दावा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2018   20:56
J&K में राजनीतिक हलचल तेज, महबूबा मुफ्ती ने पेश किया सरकार बनाने का दावा

बुखारी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘नेताओं ने एक गठबंधन बनाने पर सहमति जतायी है। पीडीपी, नेकां, कांग्रेस नेतृत्व स्तर पर राजी हो गए हैं।

श्रीनगर। पीडीपी नेता अल्ताफ बुखारी ने बुधवार को यहां कहा कि पीडीपी, नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस जम्मू कश्मीर में सरकार गठित करने के उद्देश्य से हाथ मिलाने को तैयार हो गए हैं। उन्होंने कहा कि 87 सदस्यीय सदन में 60 विधायक प्रस्तावित गठबंधन करने को तैयार हो गये हैं। 

इस बीच महबूबा मुफ्ती की पीडीपी ने कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस की मदद से जम्मू कश्मीर में सरकार बनाने का दावा पेश किया। महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल को पत्र लिखकर दावा किया कि उनके पास नेशनल कॉफ्रेंस के 15 और कांग्रेस के 12 सदस्यों का समर्थन है। मुफ्ती के 87 सदस्यीय विधानसभा में 29 विधायक है। वही PDP के बागी इमरान हुसैन ने दावा किया है कि उनके साथ PDP के 18 विधायक हैं। भाजपा ने भी कल अपनी पार्टी नेताओं की बैठक बुलाई है। 

बुखारी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘नेताओं ने एक गठबंधन बनाने पर सहमति जतायी है। पीडीपी, नेकां, कांग्रेस नेतृत्व स्तर पर राजी हो गए हैं। गठबंधन की रूपरेखा क्या होगी, इसकी जानकारी अभी विधायकों तक नहीं आ पाई है और मुझे बस इतना ही बताया गया है।’’ पीडीपी नेता बुखारी ने इससे पहले दिन में नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि उनके बीच गठबंधन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई। उन्होंने कहा, ‘‘हम मुलाकात करते रहते हैं। मैंने गठबंधन को लेकर कोई बात नहीं की किन्तु आमतौर पर हम सभी मिलते हैं।’’

बुखारी ने इस बात से इंकार किया कि उन्होंने सरकार गठन के सिलसिले में पीडीपी विधायकों की एक बैठक बुलायी है। यह पूछे जाने पर कि क्या वह मुख्यमंत्री पद की दौड़ में हैं, बुखारी ने कहा, ‘‘इस तरह की कोई चीज नहीं है। नेताओं में से ही कोई मुख्यमंत्री बनेगा। यह मुद्दा मुख्यमंत्री बनने के बारे में नहीं है।’’उन्होंने कहा, ‘‘यह गठबंधन कश्मीर मुद्दे, कश्मीर की स्थिति, भारत के संविधान के तहत राज्य को मिली विशेष पहचान को संरक्षित रखने से संबंधित है।’’

पीडीपी नेता ने कहा, ‘‘निर्वाचित प्रतिनिधियों के रूप में हमें लोगों की आकांक्षाओं और उभरती परिस्थितियों पर प्रतिक्रिया देना होता है। अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35-ए पर हमले हो रहे हैं। यह गठबंधन सत्ता में आने के लिए नहीं है।’’ यह पूछे जाने पर कि गठबंधन की औपचारिक घोषणा कब की जाएगी, उन्होंने कहा, ‘‘इसकी बहुत जल्द घोषणा की जानी चाहिए। ईद मिलाद उन नबी के मद्देनजर आज के लिए कोई योजना नहीं बनायी गयी है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।