• पंजाब एससी आयोग ने जाति आधारित नाम वाले गांवों, नगरों का दोबारा नामकरण करने की मांग उठायी

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, कौर ने कहा कि अनुसूचित जाति से जुड़े विभिन्न संगठनों द्वारा आयोग के संज्ञान में लाया गया है कि राज्य के अधिकांश गांवों, कस्बों, स्कूलों, मोहल्लों, और गलियों के नाम जाति आधारित हैं।

पंजाब राज्य अनुसूचित जाति आयोग की अध्यक्ष तेजिंदर कौर ने सोमवार को मुख्य सचिव को पत्र लिखकर उन गांवों, कस्बों और अन्य जगहों के नाम बदलने को कहा, जिनके जाति आधारित नाम थे।

एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, कौर ने कहा कि अनुसूचित जाति से जुड़े विभिन्न संगठनों द्वारा आयोग के संज्ञान में लाया गया है कि राज्य के अधिकांश गांवों, कस्बों, स्कूलों, मोहल्लों, और गलियों के नाम जाति आधारित हैं।

कौर ने मुख्य सचिव विनी महाजन से यह भी कहा कि आधिकारिक कामकाज में हरिजन और गिरिजन शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।