क्वाड वैश्विक कल्याण की शक्तिशाली ताकत बनकर उभरा है, विदेश मंत्री जयशंकर का बयान

Jaishankar
जापान में अगले महीने होने वाले क्वाड (चतुष्पक्षीय सुरक्षा संवाद) शिखर सम्मेलन से पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को कहा कि ऑस्ट्रेलिया, भारत, जापान और अमेरिका का यह अनौपचारिक समूह वैश्विक कल्याण की एक शक्तिशाली ताकत बनकर उभरा है।

वाशिंगटन। जापान में अगले महीने होने वाले क्वाड (चतुष्पक्षीय सुरक्षा संवाद) शिखर सम्मेलन से पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर ने सोमवार को कहा कि ऑस्ट्रेलिया, भारत, जापान और अमेरिका का यह अनौपचारिक समूह वैश्विक कल्याण की एक शक्तिशाली ताकत बनकर उभरा है। जयशंकर ने संवाददाताओं को बताया कि अमेरिकी विदेश मंत्रालय के फॉगी बॉटम मुख्यालय में भारत और अमेरिका के बीच हुई ‘टू प्लस टू’ मंत्रिस्तरीय वार्ता के दौरान हिंद-प्रशांत क्षेत्र की चुनौतियों पर विशेष ध्यान दिया गया।

इसे भी पढ़ें: मदर डेयरी पश्चिम बंगाल में मूल्यवर्धित डेयरी उत्पादों का विस्तार करेगी

उन्होंने कहा, ‘‘हम अमेरिका द्वारा क्वाड पर दिए गए ध्यान की सराहना करते हैं। इसके पिछले वर्ष उत्थान से संपूर्ण हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लाभ हुआ है।’’ जयशंकर ने कहा, ‘‘क्वाड वास्तव में वैश्विक कल्याण की एक शक्तिशाली ताकत के रूप में उभरा है।’’ इससे पहले, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने संकेत दिया था कि आगामी क्वाड शिखर सम्मेलन 24 मई को जापान में आयोजित होगा, लेकिन व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने इसकी सटीक तिथि नहीं बताई।

इसे भी पढ़ें: वोट की खातिर ‘भगवा’ का इस्तेमाल संतों का अपमान : मुख्यमंत्री बघेल

उन्होंने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘‘राष्ट्रपति एशिया जाने के इच्छुक हैं, लेकिन इस समय इस बारे में और जानकारी नहीं है। इस बारे में बात करने के बाद से वह स्पष्ट रूप से उत्साहित हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़