अपने बयान को लेकर अकेले पड़े राहुल गांधी? हरकत में आई G-23

अपने बयान को लेकर अकेले पड़े राहुल गांधी? हरकत में आई G-23

कांग्रेस नेताओं ने भी राहुल गांधी के बयान को लेकर अपनी टिप्पणी की। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी जी ने अपने किसी अनुभव के आधार पर टिप्पणी की है, मुझे किसी क्षेत्र के अपमान की बात मुझे नहीं दिखती। राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं।

कुछ महीनों बाद देश के पांच राज्य पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। भारत में चुनाव लोकतंत्र के त्यौहार सरीखा होता है। लेकिन इन्हीं चुनावों में जीत के लिए राजनेता कैसे-कैसे पैंतरे आजमाते हैं वो हैरान करने वाला है। वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक बयान दिया था जिसमें उन्होंने देश के दो हिस्से दक्षिण भारत को बेहतर बताने के लिए उत्तर भारत के नागरिकों की सूझ-बूझ को कमतर बताया। इसके बाद बीजेपी ने उनपर पलटवार भी किया। वहीं कांग्रेस नेताओं ने भी राहुल गांधी के बयान को लेकर अपनी टिप्पणी की। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी जी ने अपने किसी अनुभव के आधार पर टिप्पणी की है, मुझे किसी क्षेत्र के अपमान की बात मुझे नहीं दिखती। राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने देश को एक समझा है, हमने कभी क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर लकीर नहीं खींची। शर्मा ने कहा कि क्या कहना चाह रहे हैं कुछ लोग, हम नहीं कह सकते। जहां तक अमेठी की बात है, वहां के मतदाताओं के भी हम कृतज्ञ हैं, उन्होंने लंबे समय तक राजीव गांधी जी को चुनकर भेजा, राहुल गांधी भी 3 बार वहां से चुने गए। कांग्रेस पार्टी वहां के मतदाताओं का सम्मान करती है।

इसे भी पढ़ें: मोदी के नाम पर स्टेडियम, कांग्रेस ने कहा- अब लौह पुरुष सरदार पटेल को भी वणक्कम !

वहीं आनंद शर्मा के बयान के बाद कांग्रेस के असंतुष्ट गुट के कुछ नेताओं ने गुलाम नबी आजाद के घर बैठक की। इस बैठक में आनंद शर्मा और भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी मौजूद रहे। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बाल ने कहा कि बटवारे की राजनीति तो भाजपा करती है। मतदाता चाहे उत्तर भारत का हो या फिर दक्षिण भारत का सभी मतदाताओं को वोट देने की समझ है। मैं कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं। मतदाता कहीं का भी हो उसे इज्जत देनी चाहिए। इसके साथ ही गुजरात में पार्टी प्रदर्शन पर बयान देते हुए सिब्बल ने कहा कि गुजरात में जो नतीजे आए हैं, हमारे जो 8 विधायक दल बदल करके चले गए थे, वहां हमारा प्रदर्शन बहुत खराब रहा और कल के नतीजे भी चौंकाने वाले हैं, ये समय है कि इसका अवलोकन किया जाए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।