राहुल गांधी का भाजपा पर निशाना, बोले- महंगाई और बेरोजगारी पर चलना चाहिए बुलडोजर

rahul gandhi
अंकित सिंह । Apr 12, 2022 4:15PM
अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा कि महंगाई और बेरोज़गारी ने देश की जनता का दम निकाल दिया है। सरकार को लोगों की इन समस्याओं पर बुलडोजर चलाना चाहिए। मगर भाजपा के बुलडोजर पर तो नफ़रत और दहशत सवार है।
नयी दिल्ली। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद से बुलडोजर खूब सुर्खियों में है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान ही योगी आदित्यनाथ को बुलडोजर बाबा बताया गया। धीरे-धीरे योगी आदित्यनाथ की पहचान बुलडोजर बाबा के तौर पर हो गई है। बुलडोजर अवैध निर्माणों के खिलाफ लगातार उत्तर प्रदेश में चल रहा है। इसी के साथ-साथ मध्यप्रदेश में भी दंगाइयों और अपराधियों के खिलाफ बुलडोजर चलाया जा रहा है। हालांकि बुलडोजर को लेकर अब राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुलडोजर को लेकर बड़ी बात कही है। राहुल गांधी ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ता में बैठे लोगों को महंगाई और बेरोजगारी जैसे समस्याओं पर बुलडोजर चलाना चाहिए। लेकिन भाजपा के बुलडोजर पर तो नफरत और दहशत सवार है। दरअसल, रामनवमी को मध्य-प्रदेश के खरगोन में हुई हिंसा की पृष्ठभूमि में घरों और दुकानों पर बुलडोजर चलाए जा रहे हैं। इसी को लेकर राहुल गांधी ने अपना ट्वीट किया है। अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा कि महंगाई और बेरोज़गारी ने देश की जनता का दम निकाल दिया है। सरकार को लोगों की इन समस्याओं पर बुलडोजर चलाना चाहिए। मगर भाजपा के बुलडोजर पर तो नफ़रत और दहशत सवार है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा कि भगवान राम को मर्यादा पुरुषोत्तम कहा जाता है जिसका मतलब पवित्रता का प्रतीक होता है। राम नवमी पर असहिष्णुता, हिंसा और घृणा के कृत्य किए जा रहे हैं। उन्होंने सत्ता में शीर्ष पर विराजमान लोगों पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा, ‘‘देश के शीर्ष नेता नफरत के प्रसार को देखने और सुनने से इनकार करते हैं। वे मौन हैं।

इसे भी पढ़ें: हिंसक झड़पों पर राहुल गांधी बोले- भारत को कमजोर कर रही है नफरत और हिंसा

इससे पहले राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि नफरत, हिंसा और अलगाव भारत को कमजोर कर रहे हैं तथा ऐसे में न्यायप्रिय और समावेशी भारत के लिए खड़े होने की जरूरत है। उन्होंने रामनवमी पर देश के कुछ स्थानों तथा यहां जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हुई हिंसक झड़पों की पृष्ठभूमि में यह टिप्पणी की। कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया, ‘‘नफरत, हिंसा और अलगाव हमारे प्रिय देश को कमजोर कर रहे हैं। भाईचारे, शांति और सद्भाव के माध्यम से प्रगति का मार्ग प्रशस्त होता है। आइए, न्यायप्रिय और समावेशी भारत को सुरक्षित करने के लिए साथ खड़े होते हैं।’’

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़