राकेश टिकैत बोले- हमारे जो लोग जेल में बंद हैं वो रिहा हो जाएं फिर बातचीत होगी

राकेश टिकैत बोले- हमारे जो लोग जेल में बंद हैं वो रिहा हो जाएं फिर बातचीत होगी

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारे जो लोग जेल में बंद हैं वो रिहा हो जाएं फिर बातचीत होगी। इससे पहले सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि हम आम सहमति तक नहीं पहुंच रहे हैं, लेकिन हम आपको प्रस्ताव दे रहे हैं और किसान विमर्श कर सकते हैं। मैं सिर्फ एक फोन काॅल की दूरी पर हूं।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि हमारे जो लोग जेल में बंद हैं वो रिहा हो जाएं फिर बातचीत होगी। प्रधानमंत्री ने पहल की है और सरकार और हमारे बीच की एक कड़ी बने हैं। किसान की पगड़ी का भी सम्मान रहेगा और देश के प्रधानमंत्री का भी। 

इसे भी पढ़ें: नरेश टिकैत बोले, प्रधानमंत्री की गरिमा का सम्मान, लेकिन किसानों के आत्म-सम्मान की भी रक्षा की जाएगी

गौरतलब है कि सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि हम आम सहमति तक नहीं पहुंच रहे हैं, लेकिन हम आपको प्रस्ताव दे रहे हैं और किसान विमर्श कर सकते हैं। मैं सिर्फ एक फोन काॅल की दूरी पर हूं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।