Prabhasakshi's Newsroom । IAS अफसर के सामने धर्म परिवर्तन का पाठ, गोवा में कांग्रेस को बड़ा झटका

Prabhasakshi's Newsroom । IAS अफसर के सामने धर्म परिवर्तन का पाठ, गोवा में कांग्रेस को बड़ा झटका

धर्म परिवर्तन गिरोह से जुड़ा एक हैरान करने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ आइएएस अधिकारी मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन सामने दिखाई दे रहे है।

उत्तर प्रदेश में एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी से जुड़ा वीडियो सामने आया है जिसने सबको हैरानी में डाल रखा है। इस वीडियो में आईएएस अधिकारी का सीधा कनेक्शन धर्मांतरण गैंग से दिख रहा है। हालांकि हम इसकी पुष्टि तो नहीं कर रहे लेकिन इसके बारे में आपको जरूर बताएंगे। गोवा में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है तो वही पश्चिम बंगाल एक बार फिर से चुनावी हिंसा से जूझ रहा है। वहां भाजपा और तृणमूल कार्यकर्ता आमने-सामने हैं और आरोप-प्रत्यारोप का दौर एक बार फिर से जारी है। 

धर्म परिवर्तन गिरोह से जुड़ा एक हैरान करने वाला वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ आइएएस अधिकारी मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन सामने दिखाई दे रहे है। इसमें वह कुछ मुस्लिम समाज के लोगों के बीच बैठे हुए है। लेकिन विवाद तब बढ़ यगा जब वह धर्म परिवर्तन के फायदे गिना रहे वक्ताओं को सुन रहे है। वायरल वीडियो में आईएएस इफ्तिखारुद्दीन इस्लाम धर्म के प्रचार की भी बातें कर रहे हैं जो कि हैरान करने वाला है। हालांकि यह वीडियो कब का है और किस ने शूट किया है इसको लेकर स्थिति साफ नहीं है और ना ही हम इसकी पुष्टि कर रहे है। लेकिन इस पर राजनीति शुरू हो गई है।

इसे भी पढ़ें: Central Vista Project: इतिहास में पहली बार कामगारों के योगदान को मिलेगा सम्मान, डिजिटल संग्रहालय के साथ ही दिया जाएगा प्रमाण पत्र

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इसकी जांच कराए जाने की बात कही है। केशव मौर्य ने कहा कि कानपुर तथा उन्नाव दौरे के समय मुझे कुछ लोगों ने इस प्रकरण के बारे में जानकारी दी थी। अभी मैं इसके बारे में और भी ज्यादा पता करने की कोशिश कर रहा हूं और यह गंभीर मामला है। उन्होंने कहा कि हम इस के तह तक जाएंगे और इसकी जांच कराएंगे। अगर इसमें आईएएस अफसर से जुड़ा कुछ मामला सामने आता है तो हम कार्रवाई जरूर करेंगे। कानपुर के पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने कहा कि वरिष्ठ आइएएस इफ्तिखारुद्दीन से जुड़े कई वायरल वीडियो संज्ञान में आए हैं। जांच कराई जा रही है।

गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता लुइज़िन्हो फलेरियो ने कहा कि वह विधायक और पार्टी के प्राथमिक सदस्य के रूप में इस्तीफा दे रहे हैं और उन्होंने राज्य कांग्रेस इकाई की आलोचना की, जिसे उन्होंने कांग्रेस के लिए एक भौंडा मजाक बताया।वहीं गोवा कांग्रेस ने लुइजिन्हो फ़ालेयरो के पार्टी छोड़ने को ‘‘सुखकर’’ बताया और कहा कि अपने विधानसभा क्षेत्र में लोगों से उनका संपर्क नहीं है। फलेरियो ने अपने आगामी कदम के बारे में नहीं बताया लेकिन उनके तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल होने की संभावना है क्योंकि उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की प्रशंसा की। लुइज़िन्हो फलेरियो के इस्तीफा देने के बाद, राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि 2017 से गोवा कांग्रेस के नेता अपनी पार्टी छोड़ रहे हैं। लगभग 13-14 लोग कांग्रेस छोड़ चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी ने शहीद भगत सिंह को उनकी जन्म-जयंती पर दी श्रद्धांजलि, कहा- वह हर भारतीय के दिल में रहते हैं

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष को भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में तृणमूल कांग्रेस के कथित समर्थकों ने सोमवार को धक्का दिया और उनसे दुर्व्यवहार किया, जिसके बाद उनके सुरक्षा अधिकारियों को पिस्तौल निकालनी पड़ी। इस विधानसभा क्षेत्र से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं और चुनाव प्रचार के अंतिम दिन यहां का राजनीतिक तापमान काफी गर्म नजर आया। चुनाव आयोग ने घटना पर राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है। पार्टी उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल के लिए प्रचार करते समय भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के खिलाफ सत्तारूढ़ तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने ‘‘वापस जाओ’’ के नारे लगाए। राष्ट्रीय समाचार चैनलों पर दिखा कि घोष के साथ सड़क पर धक्का-मुक्की की जा रही है और दुर्व्यवहार किया जा रहा है और सुरक्षाकर्मी उन्हें बचाने का प्रयास कर रहे हैं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।