• कोविड की संभावित तीसरी लहर से बचाव के दृष्टिगत जिलों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित

संभावित तीसरी लहर से बचाव के दृष्टिगत कोविड अनुरूप व्यवहार जैसे परस्पर दूरी बनाए रखना, साबुन-पानी से हाथ धोना या सैनिटाइजर से हाथ साफ करना और मास्क का उपयोग करना आदि नियमों का कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

शिमला। कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर से निपटने व बचाव के दृष्टिगत स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी की अध्यक्षता में आज यहां समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में सभी जिला उपायुक्तों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों, मेडिकल काॅलेज के प्रधानाचार्य व चिकित्सा अधीक्षकों ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से भाग लिया।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली दंगे मामला: ताहिर हुसैन की जमानत पर दिल्ली HC ने पुलिस से मांगा जवाब

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि राज्य सरकार कोविड-19 की हर स्थिति पर नजर रखे हुए है ताकि किसी भी स्थिति से समय रहते निपटा जा सके। उन्होंने कहा कि संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत राज्य में हर संभव तैयारियां की जा रही हैं और इस संबंध में सभी उपायुक्तों व मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य संस्थानों में पर्याप्त बिस्तर, ऑक्सीजन की उपलब्धता, मानव संसाधनों का प्रबंधन व प्रशिक्षण, दवाइयों की खरीद व आपूर्ति सहित अन्य आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही हैं ताकि आवश्यकता होने पर बचाव के दृष्टिगत इनका उपयोग किया जा सके।

इसे भी पढ़ें: अफगानिस्तान पर भारत का बयान, कहा- हम सभी शांति पहल का समर्थन करते हैं!

उन्होंने लोगों से संभावित तीसरी लहर से बचाव के दृष्टिगत सतर्क रहने का आह्वान करते हुए कहा कि राज्य में कोविड-19 महामारी का प्रभाव कम हुआ है लेकिन यह महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। संभावित तीसरी लहर से बचाव के दृष्टिगत कोविड अनुरूप व्यवहार जैसे परस्पर दूरी बनाए रखना, साबुन-पानी से हाथ धोना या सैनिटाइजर से हाथ साफ करना और मास्क का उपयोग करना आदि नियमों का कड़ाई से पालन करना सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली खेल विश्वविद्यालय में अगले साल अप्रैल से कक्षा छह से नौ तक के छात्र ले सकेंगे प्रवेश

निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं, निदेशक चिकित्सा शिक्षा, सभी जिला उपायुक्तों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों, मेडिकल काॅलेज के प्रधानाचार्य, चिकित्सा अधीक्षकों, जोनल अस्पतालों के चिकित्सा अधीक्षकों, लाॅजिस्टिक समीति के सदस्यों डाॅ. अनीता महाजन, डाॅ. जितेंद्र चैहान, डाॅ. डी.डी. शर्मा, डाॅ. रमेश चंद सहित अन्य अधिकारियों ने बैठक में वर्चुअल माध्यम से भाग लिया।