पनियाला मोड़ से ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे तक की सड़क का भरतपुर तक किया जाए विस्तार: गहलोत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2022   09:29
पनियाला मोड़ से ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे तक की सड़क का भरतपुर तक किया जाए विस्तार: गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री को पत्र लिखकर पनियाला मोड़ से दिल्ली-मुम्बई ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे तक की सड़क को भरतपुर तक विस्तारित करने एवं अलवर-भरतपुर सड़क (97 किमी) को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित कर फोरलेन सड़क में क्रमोन्नत करने संबंधी प्रस्ताव को स्वीकृत करने का आग्रह किया है।

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री को पत्र लिखकर पनियाला मोड़ से दिल्ली-मुम्बई ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे तक की सड़क को भरतपुर तक विस्तारित करने एवं अलवर-भरतपुर सड़क (97 किमी) को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित कर फोरलेन सड़क में क्रमोन्नत करने संबंधी प्रस्ताव को स्वीकृत करने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री ने पत्र में बताया, ‘‘राजस्थान में अलवर जिला प्रमुख औद्योगिक एवं पर्यटन स्थल है तथा भरतपुर में भी विश्व प्रसिद्ध घना पक्षी अभयारण्य है।

इसे भी पढ़ें: वह एक बुरे सपने में जी रहे हैं विराट कोहली, IPL 2022 में स्टार खिलाड़ी की लगातार खराब फॉर्म पर बोले आकाश चोपड़ा

भरतपुर के नजदीक आगरा में विश्व प्रसिद्ध ताजमहल, मथुरा, गोवर्धन, वृंदावन आदि स्थल हैं। इन स्थानों पर प्रतिदिन हजारों पर्यटक पंजाब, हरियाणा एवं अन्य राज्यों से आते हैं।’’ गहलोत ने पत्र में लिखा है कि राजस्थान में दिल्ली-मुम्बई ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे तथा नवनिर्मित अम्बाला-नारनौल-पनियाला मोड़ राष्ट्रीय राजमार्ग को पनियाला मोड़-अलवर-बड़ौदामेव के माध्यम से भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) द्वारा जोड़ा जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने पुलिस पर महिला स्वास्थ्यकर्मियों के खिलाफ अत्याचार करने का आरोप लगाया

इसमें कहा गया है कि यह राजमार्ग दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे पर स्थित शीतल ग्राम अलवर-भरतपुर सड़क के नजदीक जुड़े़गा, जो अलवर से 15 किमी तथा भरतपुर से 90 किमी की दूरी पर है। मुख्यमंत्री ने पत्र में बताया कि दिल्ली मुम्बई एक्सप्रेस-वे एवं अंबाला-नारनौल-पनियाला एक्सप्रेस-वे से भविष्य में आने वाले यातायात को भरतपुर, आगरा एवं मथुरा जाने के लिये एक सुगम एवं सुलभ मार्ग की आवश्यकता होगी।

उन्होंने बताया कि इस कारण पनियाला मोड़ से दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे तक की सड़क को भरतपुर तक विस्तारित करने एवं अलवर-भरतपुर सड़क (97) को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित कर फोरलेन में क्रमोन्नत करना आवश्यक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे क्षेत्र के विकास को बढ़ावा मिलेगा तथा पर्यटन में बढ़ोतरी के साथ ही आमजन को भी रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकेंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।