संबित पात्रा का पलटवार, कहा- राहुल का मतलब ही गैर जिम्मेदार होना है, अगर हथियार डाल दिया गया तो इतने दिन तक चुप क्यों बैठे रहे?

संबित पात्रा का पलटवार, कहा- राहुल का मतलब ही गैर जिम्मेदार होना है, अगर हथियार डाल दिया गया तो इतने दिन तक चुप क्यों बैठे रहे?

संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष सरकार की आवाज को दबा रहा है। वह सांसद को बोलने नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार तमाम मुद्दों पर बातचीत करने के लिए तैयार है। लेकिन विपक्ष सदन चलने नहीं दे रहा है।

पेगासस जासूसी मामला अब राजनीतिक मद्दा बनता जा रहा है। सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच वार पलटवार शुरू हो गया है। राहुल गांधी ने आज सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार ने पेगासस के जरिए मोबाइल में हथियार लगवाए है। इसके बाद से भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी और विपक्ष पर पलटवार किया है। संबित पात्रा ने साफ तौर पर कहा कि राहुल गांधी का मतलब ही होता है गैर जिम्मेदार होना। पहले अपने फोन का हथियार निकलवाएं और उससे फॉरेंसिक जांच के लिए दें। राहुल गांधी ने कहा है कि उनके फोन में पेगासस नाम का हथियार डाल दिया गया है। अगर हथियार डाल दिया गया तो इतने दिन तक राहुल गांधी चुप क्यों बैठे रहे? इसपर उन्होंने FIR दर्ज़ की क्या? कोई हथियार नहीं है। जो चीज़ नहीं है उसका हथियार बनाकर इन्हें संसद को रोकना है।

संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष सरकार की आवाज को दबा रहा है। वह सांसद को बोलने नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार तमाम मुद्दों पर बातचीत करने के लिए तैयार है। लेकिन विपक्ष सदन चलने नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा कि राहुल के अनुयाई सदन में कागज फाड़ रहे हैं जैसे मनमोहन सिंह की सरकार के समय उन्होंने फाड़ा था। पात्रा ने कहा कि सबकी एक ही मंशा है परिवार को बचाना। परिवार कैसे आगे बढ़े इसकी सब चिंता कर रहे हैं। विपक्ष सिर्फ और सिर्फ अपना सियासी फायदा देख रहा है। विपक्ष एक होने का नाटक कर रहा है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।