संजय राउत का दावा, हमने राम के नाम पर नहीं मांगा वोट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 15, 2019   17:31
  • Like
संजय राउत का दावा, हमने राम के नाम पर नहीं मांगा वोट

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि रामलला राजनीति का विषय नहीं हैं बल्कि आस्था का मसला हैं। हमने राम के नाम पर वोट नहीं मांगा और ना ही भविष्य में मांगेंगे।

अयोध्या। शिवसेना नेता संजय राउत ने शनिवार को कहा कि पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे पिछले साल नवंबर में किया गया वादा पूरा कर रहे हैं कि वह चुनाव बाद यहां फिर आएंगे। उन्होंने रामलला को राजनीति का नहीं बल्कि आस्था का विषय बताया। राउत ने संवाददाताओं से कहा कि रामलला राजनीति का विषय नहीं हैं बल्कि आस्था का मसला हैं। हमने राम के नाम पर वोट नहीं मांगा और ना ही भविष्य में मांगेंगे। जब वह (उद्धव) नवंबर में अयोध्या आये थे तो चुनाव बाद फिर आने का वायदा किया था। वह अपना वादा पूरा कर रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ की चाहत, अयोध्या में जल्द बने राम मंदिर

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के बारे में राउत ने कहा कि मोदी और योगी के नेतृत्व में इसका निर्माण होगा। 2019 का बहुमत राम मंदिर निर्माण के लिए है। राज्यसभा में भी 2020 तक हमारा बहुमत हो जाएगा। उद्धव कल सुबह अयोध्या पहुंचेंगे जबकि 18 नवनिर्वाचित शिवसेना सांसद शनिवार शाम तक पहुंच जाएंगे। ठाकरे रामलला के दर्शन कर पूजा अर्चना करेंगे। इस साल के अंत में महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव होने हैं।

इसे भी पढ़ें: अठावले ने शिवसेना पर साधा निशाना, कहा- उद्धव के दौरे का राम मंदिर निर्माण पर नहीं पड़ेगा कोई असर

शिवसेना ने ठाकरे की प्रस्तावित यात्रा का उद्देश्य लोकसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन के लिए भगवान राम का धन्यवाद करना और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की प्रतिज्ञा करना बताया है। पिछले शुक्रवार को उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रामलला का पूजन करने अयोध्या आये थे। अयोध्या के एक संग्रहालय में भगवान राम की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद योगी ने कहा कि यह हर किसी की इच्छा है कि राम मंदिर बने।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


को-विन ऐप में आई दिक्कत, महाराष्ट्र में टीकाकरण अभियान सोमवार तक निलंबित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 17, 2021   11:38
  • Like
को-विन ऐप में आई दिक्कत, महाराष्ट्र में टीकाकरण अभियान सोमवार तक निलंबित

को-विन ऐप में दिक्कत के बाद महाराष्ट्र में टीकाकरण अभियान सोमवार तक निलंबित कर दिया गया है।स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ऐप में दिक्कत आने की वजह से कई लोगों को टीके के लिए संदेश नहीं गया जिन्हें शनिवार को टीका लगवाना था।

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार शाम कहा कि को-विन ऐप में दिक्कत आने की वजह से राज्य में कोविड-19 टीकाकरण अभियान को सोमवार तक के लिए निलंबित कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने टीकाकरण के लिए पंजीकरण का प्रबंधन करने के वास्ते यह ऐप बनाया है। देशभर में शनिवार सुबह कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान शुरू हो गया। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, सिर्फ महाराष्ट्र में ही नहीं, बल्कि देश में हर जगह इस ऐप ने टीकाकरण अभियान के क्रियान्वयन में समस्याएं पैदा कीं। हमने अगले दो दिनों के लिए टीकाकरण अभियान को निलंबित करने का निर्णय किया है।

इसे भी पढ़ें: प्रारंभ स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट में बोले PM मोदी, ये डिजिटल रिवॉल्यूशन की सदी है

स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ऐप में दिक्कत आने की वजह से कई लोगों को टीके के लिए संदेश नहीं गया जिन्हें शनिवार को टीका लगवाना था। उन्होंने बताया कि को-विन ऐप में दिक्कत आ गई, जिसका शुक्रवार देर रात पता चला था और शनिवार शाम तक परेशानी का हल नहीं किया जा सका। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की योजना पहले दिन 28,500 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाने की थी, लेकिन 18,425 लोगों को टीका लगाया गया है जो पहले दिन के लक्ष्य का 65 फीसदी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


काशी-केवड़िया नई ट्रेन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिखाई हरी झंडी

  •  निधि अविनाश
  •  जनवरी 17, 2021   11:29
  • Like
काशी-केवड़िया नई ट्रेन को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिखाई हरी झंडी

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, केवड़िया को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से जोड़ने वाली 8 ट्रेनों को प्रधानमंत्री द्वारा हरी झंडी दिखाई। साथ ही प्रधानमंत्री ने गुजरात में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन किया। पीएम मोदी ने वडोदरा-केवड़िया ब्रॉडगेज का भी उद्घाटन किया।

भारतीय रेल सरदार पटेल की प्रतिमा को देश से जोड़ने जा रही है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, केवड़िया को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से जोड़ने वाली 8 ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।साथ ही प्रधानमंत्री ने गुजरात में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन किया। पीएम मोदी ने वडोदरा-केवड़िया ब्रॉडगेज का भी उद्घाटन किया। 

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि, " रेलवे के इतिहास में संभवत: पहली बार ऐसा हो रहा है जब एक साथ देश के अलग-अलग कोने से एक ही जगह के लिए इतनी ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई गई हो। केवड़िया जगह भी तो ऐसी है, इसकी पहचान देश को एक भारत, श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाले सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा से है"।

इसे भी पढ़ें: प्रारंभ स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट में बोले PM मोदी, ये डिजिटल रिवॉल्यूशन की सदी है

रोजगार के बढ़ेंगे मौके 

पीएम मोदी ने कहा कि इस रेल कनेक्टिविटी का सबसे बड़ा लाभ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी देखने आने वाले पर्यटकों को तो मिलेगा ही, साथ ही ये कनेक्टिविटी के​वड़िया के आदिवासी भाई-बहनों का जीवन भी बदलने जा रही है। इससे रोजगार और स्वरोजगार के नए अवसर आएंगे।

पर्यटकों की बढ़ी संख्या 

प्रधानमंत्री ने बताया कि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने के लिए अब स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी से भी ज़्यादा पर्यटक पहुंचने लगे हैं। अपने लोकार्पण के बाद क़रीब 50 लाख लोग स्टैच्यू ऑफ यूनिटी को देखने आ चुके हैं। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुंचना होगा और आसान, पीएम मोदी करेंगे रेलवे स्टेशन का उद्घाटन

  •  निधि अविनाश
  •  जनवरी 17, 2021   11:01
  • Like
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक पहुंचना होगा और आसान, पीएम मोदी करेंगे रेलवे स्टेशन का उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए स्टैच्यू ऑफ यूनिटी, केवड़िया को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से जोड़ने के लिए 8 ट्रेनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे और गुजरात में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे।

विश्व की सर्वाधिक ऊंची सरदार पटेल जी की प्रतिमा के दर्शन कराने के लिये भारतीय रेल तैयार हो गई है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानि की रविवार को 11:00 AM पर केवड़िया, गुजरात के रेलवे स्टेशन समेत अन्य परियोजनाओं का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोकार्पण करेंगे।

 बता दें कि पीएम मोदी केवड़िया को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों से जोड़ने के लिए 8 ट्रेनों को भी हरी झंडी दिखाएंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept