• शशिकला ने अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता से अस्पताल में की मुलाकात, राजनीतिक हलचल बढ़ी

न्नाद्रमुक से निष्कासित नेता वीके शशिकला ने मंगलवार को अस्पताल में भर्ती सभापतिमंडल के अध्यक्ष ई मधुसूदनन से मुलाकात की, जिससे राज्य के राजनीतिक हलकों में हलचल मच गई।

चेन्नई। अन्नाद्रमुक से निष्कासित नेता वीके शशिकला ने मंगलवार को अस्पताल में भर्ती सभापतिमंडल के अध्यक्ष ई मधुसूदनन से मुलाकात की, जिससे राज्य के राजनीतिक हलकों में हलचल मच गई। गौरतलब है कि छह अप्रैल को हुए चुनाव में हार के बाद शशिकला ने अन्नाद्रमुक के कुछ कार्यकर्ताओं को फोन किया था। वहीं, उनके समर्थकों ने दावा किया है कि वह ओ पनीरसेल्वम और के. पलानीस्वामी से पार्टी ‘‘वापस ले लेंगी’’।इन तमाम अटकलों के बीच शशिकला ने शहर के एक निजी अस्पताल में पार्टी के वरिष्ठ नेता से मुलाकात की।

इसे भी पढ़ें: राजस्थान के झालावाड़ जिले में सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद तीन ब्लॉक में इंटरनेट सेवा निलंबित

अन्नाद्रमुक ने कहा कि वह भले ही मानवीय आधार पर मधुसूदनन से मिली हों, लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘‘भ्रमित’’ करके लाभ हासिल करने का उनका कोई प्रयास सफल नहीं होगा। अन्नाद्रमुक के सूत्रों ने बताया कि संयोग से शशिकला जब अस्पताल पहुंची, तब पलानीस्वामी भी मधुसूदनन से मिलने के लिए अस्पताल में मौजूद थे, लेकिन दोनों नेताओं के बीच मुलाकात नहीं हुई। शशिकला ने बाद में मधुसूदनन के तमाम कार्यों तथा पार्टी के प्रति उनके समर्पण को याद किया और उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना की। निष्कासित नेता जिस कार में अस्पताल पहुंची थीं उस पर अन्नाद्रमुक का झंडा लगा था, जिससे राजनीतिक हलकों में हलचल मच गई।

इसे भी पढ़ें: जब तक मैं मुख्यमंत्री था महाराष्ट्र सरकार ने एनएसओ की सेवा नहीं ली : फडणवीस

अन्नाद्रमुक प्रवक्ता एम बाबू मुरुगावेली ने कहा कि पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं से फोन पर बात करने और मधुसूदनन से अस्पताल में मुलाकात कर पार्टी समर्थको को ‘‘भ्रमित’’ करने के शशिकला के प्रयास सफल नहीं होंगे। उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘ वह भले ही मानवीय आधार पर मधुसूदनन से मिली हों, लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं को ‘‘भ्रमित’’ करके लाभ हासिल करने का उनका कोई प्रयास सफल नहीं होगा। ’’ शशिकला की कार पर अन्नाद्रमुक का झंडा लगा होने के सवल पर भी उन्होंने यही जवाब दिया।