तमिलनाडु में लोस चुनाव में लालच देने के आरोप वाली याचिका नहीं होगी सुनवाई

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 22 2019 1:02PM
तमिलनाडु में लोस चुनाव में लालच देने के आरोप वाली याचिका नहीं होगी सुनवाई
Image Source: Google

उच्चतम न्यायालय ने पहले याचिका पर निर्वाचन आयोग का जवाब मांगा था। याचिकाकर्ता ने टीवी, अखबारों और रेडियो के जरिए जागरूकता पैदा करने की अपील की थी कि वोटों के बदले में नकद देना या लेना दंडनीय अपराध है।

नयी दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को उस याचिका पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया जिसमें आरोप लगाया गया है कि तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव के लिए लोगों को बड़े पैमाने पर लालच दिया गया। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि राज्य में लोकसभा चुनाव हो चुके हैं तो वह इस मामले को सुनने के लिए इच्छुक नहीं है।

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव के लिए तैयार हूं : रजनीकांत

उच्चतम न्यायालय ने पहले याचिका पर निर्वाचन आयोग का जवाब मांगा था। याचिकाकर्ता ने टीवी, अखबारों और रेडियो के जरिए जागरूकता पैदा करने की अपील की थी कि वोटों के बदले में नकद देना या लेना दंडनीय अपराध है। याचिका में कहा गया कि राज्य में अभी तक 78.12 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की जा चुकी है। 

 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video