औरंगाबाद का नाम बदलने पर हुए विवाद के बाद रेलवे स्टेशनों पर बढ़ाई गई सुरक्षा

Aurangabad
महाराष्ट्र के औरंगाबाद का नाम बदलने के मुद्दे पर जारी विवाद के मद्देनजर रेलवे पुलिस बल ने शहर के रेलवे स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजीनगर किए जाने का मुद्दा बीते कुछ दिनों से राज्य की राजनीति में चर्चा का विषय बना हुआ है।

औरंगाबाद (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र के औरंगाबाद का नाम बदलने के मुद्दे पर जारी विवाद के मद्देनजर रेलवे पुलिस बल ने शहर के रेलवे स्टेशन की सुरक्षा बढ़ा दी है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजीनगर किए जाने का मुद्दा बीते कुछ दिनों से राज्य की राजनीति में चर्चा का विषय बना हुआ है। आरपीएफ के निरीक्षक अरविंद कुमार शर्मा ने बताया कि निरंतर गश्त के लिए रेलवे पुलिस बल (आरपीएफ) तथा राजकीय रेलवे बल (जीआरपी) को तैनात किया गया है। स्टेशन परिसर की सुरक्षा के प्रभारी अधिकारी ने बताया, ‘‘हम केवल उन्हीं लोगों को प्लेटफार्म पर जाने दे रहे हैं जिनके पास वैध टिकट हैं।’’

इसे भी पढ़ें: नहीं मानेंगे हार! राष्ट्रपति पद के लिए लड़ाई जारी रखेंगे डोनाल्ड ट्रंप

उन्होंने बताया कि ये कदम इसलिए उठाए गए हैं क्योंकि 2019 में एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें कुछ युवकों ने स्टेशन के साइनबोर्ड को तोड़ने तथा उन पर संभाजीनगर लिखने का प्रयास किया था। शिवसेना ने दो दशक से भी अधिक समय पहले औरंगाबाद का नाम बदलकर इसे संभाजीनगर करने की मांग की थी और इस संबंध में जून 1995 में औरंगाबाद नगर निगम में एक प्रस्ताव पारित किया गया था जिसे बाद में कांग्रेस के एक पार्षद ने उच्च न्यायालय और फिर उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी। शिवसेना ने हाल में कहा कि नाम में बदलाव जल्दी ही होगा जिसका कांग्रेस ने विरोध किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़