संक्रमितों की बढ़ती संख्या चिन्ता का विषय गंभीरता से आकलन कर जरूरी कदम उठाएं : गहलोत

hgh
गहलोत ने बृहस्पतिवार को कोविड-19 समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि संक्रमण को नियंत्रित रखने के लिए जांच, संक्रमित लोगों के इलाज तथा विदेश से आ रहे यात्रियों के लिए संस्थागत पृथक-वास की व्यवस्था को और पुख्ता करने का प्रयास करें।

जयपुर। राजस्थान में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की लगातार बढ़ रही संख्या पर चिन्ता व्यक्त करते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि विशेषज्ञ चिकित्सकों, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को इस स्थिति की गंभीरता का आकलन करते हुए आवश्यक कदम उठाने चाहिए। उन्होंने निर्देश दिए कि आम लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन सख्ती से की जाए।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोविड-19 के 64 और मरीजों ने तोड़ा दम, संक्रमण के 3,390 नए मामले आए सामने

गहलोत ने बृहस्पतिवार को कोविड-19 समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि संक्रमण को नियंत्रित रखने के लिए जांच, संक्रमित लोगों के इलाज तथा विदेश से आ रहे यात्रियों के लिए संस्थागत पृथक-वास की व्यवस्था को और पुख्ता करने का प्रयास करें। साथ ही, बड़ी संख्या में आम लोगों को कोविड-19 जागरूकता अभियान से जोड़कर उन्हें अपने स्वास्थ्य का खुद खयाल रखने के लिए प्रेरित करें।

इसे भी पढ़ें: शरद पवार को लेकर पडलकर की टिप्पणी पर बोले चंद्रकांत पाटिल, गलत शब्दों का किया इस्तेमाल

मुख्यमंत्री को बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में अब तक संक्रमण के 16085 मामले सामने आए हैं। बीते कुछ सप्ताहों के दौरान कुवैत, यूएई, कजाकिस्तान, किर्गीस्तान आदि देशों से लौटे मजदूरों और मेडिकल के विद्यार्थियों के कारण प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़ी है। इन सभी यात्रियों की जांच की गई है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़