भाजपा का उद्धव ठाकरे पर पलटवार, कहा- सत्ता के लिए शिवसेना ने हिंदुत्व से किया समझौता

uddhav thackeray
उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए शिवसेना ने हिंदुत्व से समझौता किया। उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस द्वारा सावरकर की आलोचना पर एक भी शब्द नहीं बोला और उन्हें सावरकर स्टेडियम से दशहरा रैली को संबोधित करना पड़ा।

मुंबई। महाराष्ट्र भाजपा ने रविवार को कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पास अपनी 11 महीने पुरानी सरकार के प्रदर्शन के बारे में कहने के लिए कुछ नहीं था और शिवसेना की वार्षिक दशहरा रैली में उन्होंने केवल भाजपा और केंद्र सरकार पर निशाना साधा। राज्य भाजपा के प्रवक्ता केशव उपाध्ये ने आरोप लगाया कि ठाकरे के पास शिवसैनिकों को अपनी सरकार के काम के बारे में बताने के लिए कुछ भी नहीं था। उन्होंने कहा, ‘‘सत्ता के लिए शिवसेना ने हिंदुत्व से समझौता किया। उद्धव ठाकरे ने कांग्रेस द्वारा सावरकर की आलोचना पर एक भी शब्द नहीं बोला और उन्हें सावरकर स्टेडियम से दशहरा रैली को संबोधित करना पड़ा। यह आदर्श न्याय है।’’ 

इसे भी पढ़ें: अर्थव्यवस्था में सुधार के बजाय सरकारों को गिराने के लिए उठाए गए कदम: उद्धव ठाकरे 

उपाध्ये ने कहा कि राज्य सरकार ने दस हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा कर किसानों के साथ मजाक किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने केंद्र के जीएसटी प्रस्ताव का जवाब नहीं दिया। उपाध्ये ने कहा कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा इसी राज्य में है। ठाकरे ने रविवार की शाम को हुई रैली में भाजपा पर यह कहते हुए प्रहार किया कि अगर केंद्र सरकार देश की अर्थव्यवस्था सुधारने के बजाए केवल सरकारों को गिराने में रूचि रखती है तो देश में अराजकता फैल जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़