स्‍मृति ईरानी ने कांग्रेस की गाय बचाओ-किसान बचाओ यात्रा पर दी तीखी प्रतिक्रिया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 27, 2020   16:46
स्‍मृति ईरानी ने कांग्रेस की गाय बचाओ-किसान बचाओ यात्रा पर दी तीखी प्रतिक्रिया

स्‍मृति ईरानी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, केरल में गौमाता की हत्‍या करने का उत्‍सव मनाने वाले कांग्रेस पदाधिकारियों की सच्‍चाई जनता भली-भांति जानती है। उन्होंने दावा किया, “जिन लोगों ने स्‍वयं किसानों की जमीन हड़प कर आज तक कब्‍जा जमाया है।

रायबरेली। केंद्रीय मंत्री और अमेठी की सांसद स्‍मृति ईरानी ने रविवार को कांग्रेस की गाय बचाओ-किसान बचाओ यात्रा पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि जनता कांग्रेस की सच्चाई भली भांति जानती है। रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी के छतोह (रायबरेली) विकास खंड के हाजीपुर गांव में पहुंची स्‍मृति ईरानी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, केरल में गौमाता की हत्‍या करने का उत्‍सव मनाने वाले कांग्रेस पदाधिकारियों की सच्‍चाई जनता भली-भांति जानती है। उन्होंने दावा किया, “जिन लोगों ने स्‍वयं किसानों की जमीन हड़प कर आज तक कब्‍जा जमाया है और जिन लोगों ने केरल में अपने पदाधिकारियों के माध्‍यम से गौमाता की निर्मम हत्‍या करके पूरे देश में उसका इश्‍तेहार छपवा दिया उनकी असलियत छिपी नहीं है।

इसे भी पढ़ें: गांधी परिवार पर बरसीं स्मृति ईरानी, बोलीं- अगले लोकसभा चुनाव में रायबरेली से भी होगी विदाई

ईरानी ने कहा, “उत्‍तर प्रदेश की जनता इन लोगों को माफ करने वाली नहीं है। उत्‍तर प्रदेश की जनता यह अच्‍छी तरह जानती है कि गौमाता के संरक्षण में भारतीय जनता पार्टी ने कितना काम किया है। जनता यह भी जानती है कि गौमाता की हत्‍या करने का उत्‍सव कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों ने मनाया है।” ईरानी ने कहा, “मैं पूरी ज़िम्मेदारी के साथ कहती हूं कि गौमाता की हत्या के बाद कांग्रेस पार्टी के आलाकमान ने ऐसे लोगों का प्रोत्साहन किया है और मेरा मानना है कि कांग्रेस पार्टी की सच्चाई जनता भली-भांति जानती है।” ईरानी ने छतोह प्रखंड के हाजीपुर गांव में पहुंचकर ग्रामीणों के साथ प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम को सुना। इस दौरान वह महिलाओं के बीच बैठी रहीं और कार्यक्रम के बाद उन्होंने महिलाओं से समस्याएं पूछी और उसके निराकरण का भरोसा दिया। ईरानी ने इस मौके पर प्रधानमंत्री के कार्यों की सराहना की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...