जासूसी के मामले में सेना का जवान गिरफ्तार

Espionage
Creative Common Licences.
सिपाही ने अपनी रेजीमेंट से जुड़ी गोपनीय जानकारियां और सेना के अभ्यास से जुड़े वीडियो साझा किए। इसके एवज में उसे पैसे भी मिलते थे। राणा मार्च 2018 से भारतीय सेना में तैनात है।

जयपुर| जासूसी के मामले में भारतीय सेना के एक जवान को गिरफ्तार किया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। आरोपी जवान शांतिमय राणा (24) राजस्थान में पदस्थापित था और उसे दो महिलाओं ने मोहपाश में फंसाया था।

पुलिस महानिदेशक (इंटेलिजेंस) उमेश मिश्रा ने बताया कि आरोपी ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी रेजिमेंट से संबंधित गोपनीय जानकारी और सेना अभ्यास के वीडियो कथित महिलाओं के साथ साझा किए।

मिश्रा ने कहा, ‘‘आरोपी कुछ समय से राज्य पुलिस की खुफिया शाखा के राडार पर था और उसे 25 जुलाई को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। वह एक पाकिस्तानी महिला एजेंट के संपर्क में था, जिसने अपना परिचय गुरनूर कौर उर्फ अंकिता के रूप में दिया।

निशा नाम की एक अन्य महिला भी उसके संपर्क में थी।’’ उन्होंने बताया कि आरोपी ने कहा कि एक महिला (अंकिता) ने उसे बताया था कि वह उत्तर प्रदेश में ‘मिलिट्री इंजीनियरिंग सर्विस’ में तैनात है जबकि दूसरी (निशा) ने उसे बताया कि वह ‘मिलिट्री नर्सिंग सर्विस’ से है। उन्‍होंने कहा, “महिलाओं ने उसे फंसाया और उससे जानकारी मांगी।

सिपाही ने अपनी रेजीमेंट से जुड़ी गोपनीय जानकारियां और सेना के अभ्यास से जुड़े वीडियो साझा किए। इसके एवज में उसे पैसे भी मिलते थे। राणा मार्च 2018 से भारतीय सेना में तैनात है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़