सुषमा स्वराज का दावा, अपने वादों की कसौटी पर खरी उतरी मोदी सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 24, 2019   17:26
सुषमा स्वराज का दावा, अपने वादों की कसौटी पर खरी उतरी मोदी सरकार

स्वराज ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति सरकार की दृढ़ता इससे ही स्पष्ट हो जाती है कि जब उरी में आतंकवादी हमला हुआ, तब सर्जिकल स्ट्राइक से और जब पुलवामा में हमला हुआ तो एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान को करारा जवाब दिया गया।

नोएडा। विदेश मंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने रविवार को दावा किया कि मौजूदा राजग सरकार में अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत की साख बढ़ी है और यह सरकार अपने वादों की कसौटी पर खरी उतरी है। स्वराज ने नोएडा के सेक्टर 125 में स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी ऑडिटोरियम में प्रबुद्ध प्रकोष्ठ के लोगों के साथ एक गोष्ठी करके अपने प्रचार अभियान की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि हवाई हमले के बाद अगले दिन पाकिस्तान ने जवाबी कार्यवाही की, उन्होंने अपने विमान भेजे, हमने उनका 1 विमान मार गिराया, उन्होंने हमारा 1 विमान मार गिराया और हमारे पायलट को  पकड़ा, भारत की इतनी बड़ी कूटनीतिक सफलता की मात्र 2 दिन में अपने पायलट को वापस ले आए। 

उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि किसी सरकार के कार्यों की जांच के लिए तीन कसौटी आवश्यक है, पहली राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति दृढ़ता, दूसरी कसौटी विकास और तीसरी जनकल्याण। इन तीनों कसौटियों पर मोदी सरकार खरी उतरी है। स्वराज ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा के प्रति सरकार की दृढ़ता इससे ही स्पष्ट हो जाती है कि जब उरी में आतंकवादी हमला हुआ, तब सर्जिकल स्ट्राइक से और जब पुलवामा में हमला हुआ तो एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान को करारा जवाब दिया गया।

इसे भी पढ़ें: चायवालों को भूलकर चौकीदारों को याद कर रहे हैं मोदी: कपिल सिब्बल

उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत की साख बढ़ी है। उन्होंने कहा कि हम पाकिस्तान को इस आतंकवादी हमले के बाद विश्व में अलग-थलग करने में कामयाब रहे हैं। विदेश मंत्री ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में देश ने काफी तरक्की की है। उन्होंने बताया कि नोएडा में ही कई परियोजनाएं पूरी हुई है और देश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा भी यहां बनने जा रहा है। उन्होंने सरकार द्वारा गरीबों के लिए चलाये जा रहे जन कल्याण कार्यों की चर्चा करते हुए पाँच साल की उपलब्धियों को गिनाया। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।