उत्तर प्रदेश: स्वतंत्र देव सिंह को मिली एक और बड़ी जिम्मेदारी, बने विधान परिषद के नेता सदन

Swatantra Dev Singh
ANI
अंकित सिंह । May 20, 2022 5:12PM
स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के पहले कार्यकाल के दौरान परिवहन मंत्री भी रह चुके हैं। हालांकि जब उन्हें भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया तो उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। स्वतंत्र देव सिंह का जन्म मिर्जापुर में हुआ था। लेकिन उनका कार्यक्षेत्र बुंदेलखंड ही रहा है।

योगी सरकार के वरिष्ठ मंत्री और उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को एक और बड़ी जिम्मेदारी मिली है। स्वतंत्र देव सिंह को उत्तर प्रदेश विधान परिषद में नेता सदन बनाए गया है। वह पूर्व उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की जगह लेंगे। स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश भाजपा के कद्दावर नेताओं में से एक हैं जिन्हें संगठन के साथ-साथ सरकार में भी काम करने का लंबा अनुभव है। स्वतंत्र देव सिंह को योगी आदित्यनाथ का बेहद विश्वसनीय बताया जाता है। यही कारण है कि उन्हें विधान परिषद में बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। उत्तर प्रदेश विधान परिषद में भी भाजपा को बहुमत है। 23 मई से शुरू होने वाले विधान मंडल के बजट सत्र में स्वतंत्र देव सिंह की भूमिका अहम रहेगी।

इसे भी पढ़ें: सामना के जरिए बोली शिवसेना, शिव कैलाश में विराजमान और 'भक्त' उन्हें कहीं और ढूंढ़ रहे

स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के पहले कार्यकाल के दौरान परिवहन मंत्री भी रह चुके हैं। हालांकि जब उन्हें भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया तो उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। स्वतंत्र देव सिंह का जन्म मिर्जापुर में हुआ था। लेकिन उनका कार्यक्षेत्र बुंदेलखंड ही रहा है। उनकी कोई राजनीतिक पृष्ठभूमि नहीं है। बावजूद इसके स्वतंत्र देव सिंह ने राजनीति में अहम मुकाम हासिल किए हैं। उन्हें आरएसएस का भी बेहद करीबी माना जाता है। स्वतंत्र देव सिंह के प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए ही भाजपा ने 2022 का विधानसभा चुनाव पूर्ण बहुमत के साथ जीत जीता है। स्वतंत्र देव सिंह को दिल्ली में भाजपा के शीर्ष नेतृत्व का भी विश्वसनीय माना जाता है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़