तेजिंदर बग्गा ने 'जेम्स बॉन्ड के चाचा' सुब्रमण्यम स्वामी को अपने ऊपर लगाए आरोपों को साबित करने की दी चुनौती, जानें क्या है पूरा मामला

तेजिंदर बग्गा ने 'जेम्स बॉन्ड के चाचा' सुब्रमण्यम स्वामी को अपने ऊपर लगाए आरोपों को साबित करने की दी चुनौती, जानें क्या है पूरा मामला

स्वामी ने ट्वीट में लिखा था, दिल्ली के पत्रकार से मुझे पता चला कि भाजपा में शामिल होने से पहले, तजिंदर बग्गा को नई दिल्ली मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन द्वारा छोटे-छोटे अपराधों के लिए कई बार जेल भेजा जा चुका है।

भाजपा दिल्ली के प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने आज ट्विटर पर भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी को उनके खिलाफ लगाए गए आरोपों को साबित करने की चुनौती दी है। दरअसल, भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने यह दावा किया था कि बीजेपी में आने से पहले बग्गा कई बार छोटे-मोटे अपराधों के लिए कई दफा जेल जा चुके हैं। उनका कहना था कि नई दिल्ली के मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन में उनका रिकॉर्ड है। स्वामी ने ट्वीट में लिखा था, "दिल्ली के पत्रकार से मुझे पता चला कि भाजपा में शामिल होने से पहले, तेजिंदर बग्गा को नई दिल्ली मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन द्वारा छोटे-छोटे अपराधों के लिए कई बार जेल भेजा जा चुका है। अगर ऐसा है तो जेपी नड्डा को पता होना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: उपचुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद बीजेपी ने बताई कांग्रेस की नई परिभाषा

तेजिंदर बग्गा ने स्वामी की तुलना जेम्स बॉन्ड के चाचा से करते हुए खुद पर लगे आरोपों पर पलटवार किया और कहा कि स्वामी को ट्वीट करने के बजाय मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन को फोन करना चाहिए, डिटेल लेकर फिर उन्हें बेनकाब करना चाहिए। बग्गा ने उनकी पोस्ट को टैग करते हुए लिखा, सुना कि आप जेम्स बॉन्ड के चाचा हैं। ट्वीट करने की बजाय मंदिर मार्ग के एसएचओ को कॉल कर डिटेल लें और मुझे एक्सपोज करें। बग्गा ने बीजेपी सांसद को चुनौती देते हुए कहा कि वह उन्हें 48 घंटे का वक्त दे रहे हैं। उसके बाद मेरी बारी। आपका समय अब ​​शुरू होता है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने किया विस्तारक बैठक

राज्यसभा सांसद स्वामी को अपनी पार्टी के नेताओं के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के लिए जाना जाता है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज एस बोम्मई ने कहा कि स्वामी एक फ्रीलांस नेता हैं, जिनकी छवि और चरित्र अपने ही नेतृत्व और पार्टी के खिलाफ बोलने की रही है। कर्नाटक के सीएम बोम्मई का ये बयान कांग्रेस नेता सिद्धारमैया के जवाब में आया था। दरअसल, सिद्धारमैया ने हाल ही में स्वामी के 2 फरवरी 2021 के एक ट्वीट का जिक्र किया था। इसमें स्वामी ने कहा था- "राम के देश भारत में पेट्रोल 93 रुपए में है, जबकि सीता के नेपाल में 53 रुपए में और रावण के लंका में 51 रुपए में।" इस साल की शुरुआत में, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, राजनाथ सिंह सहित कई केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात की, तो उन्होंने कैबिनेट फेरबदल की अफवाहों को हवा दी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।