थरूर ने सीतारमण से मुलाकात पर कहा, भारतीय राजनीति में शिष्टाचार एक दुर्लभ गुण

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 16 2019 11:41AM
थरूर ने सीतारमण से मुलाकात पर कहा, भारतीय राजनीति में शिष्टाचार एक दुर्लभ गुण
Image Source: Google

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बाद में ट्वीट किया, ‘‘सीतारमण के व्यवहार से अभिभूत हूं जो केरल में चुनाव के व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालकर अस्पताल में आज सुबह मुझसे मिलने आयीं।

तिरुवनंतपुरम। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने यहां एक मंदिर में एक रस्म के दौरान सिर में चोट लगने के बाद अस्पताल में भर्ती कांग्रेस नेता शशि थरूर से मंगलवार को मुलाकात की। तिरुवनंतपुरम से सांसद थरूर ‘‘तुलाभरम’’ रस्म के दौरान घायल हो गए थे जब तराजू का एक हुक गिर गया और उनके सिर पर जा लगा। थरूर इसी सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। उन्हें सोमवार को तिरुवनंतपुरम मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया और उन्हें मंगलवार को छुट्टी मिल सकती है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बाद में ट्वीट किया, ‘‘सीतारमण के व्यवहार से अभिभूत हूं जो केरल में चुनाव के व्यस्त कार्यक्रम से समय निकालकर अस्पताल में आज सुबह मुझसे मिलने आयीं। भारतीय राजनीति में शिष्टाचार एक दुर्लभ गुण है। उन्हें ऐसा उदाहरण पेश करते हुए देखकर अच्छा लगा।’’ ‘तुलाभरम’ एक हिंदू रस्म है जिसमें किसी व्यक्ति को फूल, अनाज, फल और ऐसी ही वस्तुओं के साथ तराजू में तौला जाता है और उसके वजन के बराबर सामग्री दान की जाती है।  सोमवार को मलयालम नव वर्ष (विशु) के अवसर पर थरूर ने अपना चुनाव प्रचार अभियान शुरू करने से पहले सुबह यहां देवी मंदिर में इस रस्म को निभाया।


सीतारमण सोमवार की रात को केरल पहुंची थीं। उन्होंने भाजपा उम्मीदवार कुम्मनम राजशेखरन के साथ तिरुवनंतपुरम में एक रोड शो किया। इसके अलावा उन्होंने शोभा सुरेंद्रन के लिए अत्तिंगल में एक चुनावी सभा को संबोधित किया।  भाकपा और वाम मोर्चा के उम्मीदवार सी दिवाकरन ने भी अस्पताल में थरूर का हाल चाल जाना। थरूर ने कहा, ‘‘बड़ी कृपा है कि एलडीएफ के मेरे प्रतिद्वंद्वी सी दिवाकरन ने मेरे स्वास्थ्य का हाल जानने के लिए आज सुबह मुलाकात की। बताया गया है कि उन्होंने अस्पताल के अधीक्षक से भी यह सुनिश्चित करने के लिए बात की कि मैं बिल्कुल ठीक हो जाऊं।’’
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप