मुख्यमंत्री रावत की 'फटी जींस' टिप्पणी पर बोलीं स्मृति ईरानी, लोग किस तरह से कपड़े पहनें, इससे नेताओं का...

Smriti Irani
केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि कुछ चीजें पवित्र हैं और उनमें से एक है महिलाओं का अपनी जिंदगी जीने के तरीके को चुनना और जिस तरीके से वे उपयुक्त समझें, समाज से जुड़ने का।

नयी दिल्ली। लोग किस तरह से कपड़े पहनें, इससे नेताओं का कोई लेना-देना नहीं है क्योंकि उनका काम नीति निर्धारण करना और कानून का शासन सुनिश्चित करना है। यह बात केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने बृहस्पतिवार को कही। वह उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की ‘‘फटी जींस’’ टिप्प्पणी को लेकर हुए विवाद पर प्रतिक्रिया दे रही थीं। रावत उस समय आलोचनाओं के घेरे में आ गए जब उन्होंने कहा कि मूल्यों में आई गिरावट युवाओं के अजीबोगरीब फैशन से झलकता है और वे घुटने पर फटी जींस पहनकर अपने को खास समझने लगते हैं। 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री रावत की टिप्पणी पर बवाल जारी, दिल्ली महिला कांग्रेस की सदस्यों ने 'फटी जींस' पहनकर किया प्रदर्शन 

ईरानी ने टाइम्स नेटवर्क इंडिया इकोनॉमिक कॉन्क्लेव के सातवें संस्करण में कहा कि कुछ चीजें पवित्र हैं और उनमें से एक है महिलाओं का अपनी जिंदगी जीने के तरीके को चुनना और जिस तरीके से वे उपयुक्त समझें, समाज से जुड़ने का। ईरानी ने कहा, ‘‘नेताओं का इस बात से कोई लेना-देना नहीं होना चाहिए कि लोग किस तरह से कपड़े पहनते हैं, क्या खाते हैं, वे क्या करते हैं क्योंकि हमारा काम नीति बनाना है और कानून का शासन सुनिश्चित करना है। कई नेताओं ने गलत बयानी की है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़