पाकिस्तान का ट्रैफिक जाम वाले VIDEO को बताया जा रहा है हिमाचल, जानिए क्या है सच्चाई?

पाकिस्तान का ट्रैफिक जाम वाले VIDEO को बताया जा रहा है हिमाचल, जानिए क्या है सच्चाई?

प्रवक्ता ने बताया कि यह वीडियो भ्रामक और तथ्यों के विपरीत है तथा यह वीडियो हिमाचल प्रदेश से संबंधित नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कें खुली हैं और प्रदेश के किसी भी भाग में इस प्रकार की ट्रैफिक जाम जैसी कोई समस्या नहीं है।

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जिला किन्नौर में पिछले दिनों भारी भूस्खलन की वजह से नौ लोग मारे गये थे उसके बाद सोशल मिडिया में एक विडियो वायरल हो रहा है जिसमें बताया जा रहा है कि  किन्नौर हादसे के बाद सडक पर हजारों वाहन की कतार लगी है व शिमला चंडीगढ  नेशनल हाईवे पर लंबा जाम लगा है विडियो के सामने आते ही हिमाचल आने वाले र्प्यटकों में परेशानी सापफ झलकने लगी और कईयों ने इसी विडियो के आधार पर अपने टूर प्रोग्राम तक कैंसिल करवा लिये प्रदेश सरकार को भी बाकायदा स्पष्टीकरण देना पड़ा, लेकिन प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क ने इस विडियो की जब सच्चाई जानी तो मामला कुछ ओर ही निकला।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल हादसे में 9 शव बरामद, सात लोग अभी भी लापता

बता दें कि यह विडियो हिमाचल का नहीं बल्कि पाकिस्तान का है इसमें दावा किया गया था कि किन्नौर से आते वक्त पर्यटक लंबे जाम में परेशान हो रहे हैं लेकिन सच्चाई यह है कि यह विडियो हाल ही में संपन्न ईद उलजुहा के दिन का पाकिस्तान के पख्तूनवा प्रांत का है ईद मनाने लोग पाकिस्तान के लोकप्रिय पर्यटन स्थल मानशेहरा की कागान घाटी में अपने वाहनों में गये थे, जहां मानसेहरा नाराना जलखड सडक मार्ग जो कि कगाहन की ओर जाता है में हजारों वाहन सडक जाम होने की वजह से फंस गये लिहाजा इस विडियो से हिमाचल का कोई लेना देना नहीं है पाकिस्तानी अखबार डान व दूसरी अखबरों में इस बारे में बाकायदा खबर छपी है  कासिम अब्बासी ने इसका विडियो भी टिवट् हैंडल से शेयर किया है। लेकिन किसी ने शरारतन इसे हिमाचल का बताया जिसके लोगों को भारी परेशानी हुई   प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि सोशल मीडिया पर हिमाचल प्रदेश में भारी ट्रैफिक जाम और भारी मात्रा में पर्यटकों द्वारा राज्य से बाहर जाने के संबंध में एक भ्रामक वीडियो वायरल हुई है।

इसे भी पढ़ें: हिमाचल विधानसभा का मानसून सत्र दो अगस्त से, 10 दिन तक चलेगा सदन

प्रवक्ता ने बताया कि यह वीडियो भ्रामक और तथ्यों के विपरीत है तथा यह वीडियो हिमाचल प्रदेश से संबंधित नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में सड़कें खुली हैं और प्रदेश के किसी भी भाग में इस प्रकार की ट्रैफिक जाम जैसी कोई समस्या नहीं है। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटकों का स्वागत है और सरकार पर्यटकों से कोविड अनुकूल व्यवहार का उचित तरीके से पालन करने का आग्रह करती है।

उन्होंने पर्यटकों से जलाशयों विशेषकर तेज प्रवाह वाली नदियों और नालों के निकट न जाने और पहाड़ों में सावधानीपूर्वक गाड़ी चलाने का आग्रह किया। उन्होंने पर्यटकों से पर्यावरण के प्रति भी जिम्मेदारीपूर्ण रवैया अपनाने को कहा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...