हिमाचल प्रदेश में हिट एंड रन केस में पुलिस की रिजर्व बटालियन के तीन जवानों की मौत

हिमाचल प्रदेश में हिट एंड रन केस में पुलिस की रिजर्व बटालियन के तीन जवानों की मौत

बताया जा रहा है कि किसी अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी और फरार हो गया है। जानकारी के अनुसार, ऊना के गगरेट की यह घटना है। आशापुरी बैरियर के पास यह हादसा हुआ है। पुलिस के मुताबिक, यह तीनों जवान चौथी आईआरबीएन बटालियन के जवान थे।

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना में एक दर्दनाक सड़क हादसे में हिमाचल पुलिस के तीन जवानों की मौत हो गई। हादसा देर रात पेश आया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इलाके में मातम पसरा है। 

 

 

बताया जा रहा है कि किसी अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी और फरार हो गया है। जानकारी के अनुसार, ऊना के गगरेट की यह घटना है। आशापुरी बैरियर के पास यह हादसा हुआ है। पुलिस के मुताबिक, यह तीनों जवान चौथी आईआरबीएन बटालियन के जवान थे।

इसे भी पढ़ें: उत्कृष्ठ महाविद्यालयों में शुमार होगा थुरल कॉलेज , विधान सभा अध्यक्ष ने थुरल में नवाज़े होनहार

ऊना पुलिस के जवान संदीप कुमार के अनुसार, आशापुरी बैरियर पर उनकी ड्यूटी थी। बुधवार रात पौने दस बजे के करीब उन्होंने जोर से किसी गाड़ी के टकराने की आवाज सुनी। मौके पर जाकर देखा तो एक बाइक हादसे का शिकार हुई थी। बाइक पर सवार तीन लोग गिरे हुए थे। उन्होंने देखा कि तीन युवकों में से दो मेन सड़क और एक कच्ची रोड पर घायल अवस्था में पड़ा था। वहीं, बाइक दूसरी तरफ कच्ची सड़क पर गिरी हुई थी।

 

इसे भी पढ़ें: राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने 1971 युद्ध के स्वर्णिम विजय दिवस के उपलक्ष्य में चंडीगढ़ में आयोजित एयर शो में भाग लिया

 

पुलिसकर्मी की ओर से 108 एंबुलेंस को सूचना दी गई। साथ ही उन्होंने ड्यूटी पर तैनात अपने सहकर्मियों को भी बुलाया। एंबुलेंस कर्मियों ने मौके पर जब घायलों की जांच की तो युवकों की मौत हो चुकी थी, जबकि तीसरे की सांसें चल रही थी। बाद में अस्पताल में तीसरे युवक ने भी दम तोड़ दिया। पुलिस का कहना है कि किसी अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मारी है। हादसे में हमीरपुर के रहने वाले मनोज, शुभभ और विशाल की मौत हुई है। युवकों के पास से मिले कागजात से इनकी पहचान हुई है। फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि किस वाहन ने उन्हें टक्कर मारी है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने डोडरा क्वार में 7.02 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की आधारशिलाएं रखीं

मनोज कुमार, शुभम व विशाल तीनों चौथी आईआरबीएन बटालियन के जवान थे। ये तीनों अभी दो दिन पहले ही ऊना में तैनात किए गए थे। विशाल झड़वीं ब्राम्राणा, भोरंज, जिला हमीरपुर का वासी था। विशाल का भाई भी पुलिस में है। विशाल करीब दो साल पहले ही पुलिस में भर्ती हुआ था।

पुलिस ने टोलटैक्स नाका से संदिग्ध गाड़ियों के नंबर लेकर जांच शुरू की। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप जाएंगे। डीएसपी मनोज जम्वाल ने पुष्टि करते हुए बताया कि ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

हमीरपुर जिला के तीन होनहार नौजवान युवकों की मृत्यु हो जाने से स्तब्ध हैँ । हम सब परम पिता परमेश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करते हैं और भगवान से दोनों हाथ जोड़कर विनती करते हैं कि इनके परिवारों को इस अपूरणीय क्षति को और इस गहरे सदमे को सहने की शक्ति दे।। 

ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू

ॐ शांति।। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...