एमपी में शराबबंदी को लेकर पर्यटन मंत्री अजीब बयान, कहा - जहां शराब बंद है उसकी दुर्गति हो रही है

एमपी में शराबबंदी को लेकर पर्यटन मंत्री अजीब बयान, कहा - जहां शराब बंद है उसकी दुर्गति हो रही है

जिन प्रदेशों में शराबबंदी है उन प्रदेशों की दुर्गति हो रही है। उन्होंने कहा जहां शराबबंदी है वहां शराब की ब्लैक मार्केटिंग हो रही है। और वहां शराब सबसे ज्यादा महंगी होती है। जिनको पीना है वह कभी भी मानता नहीं है। और इसलिए उन्हें आध्यात्मिक की तरफ जाना होगा।

भोपाल। मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के शराबबंदी को लेकर सांस्कृति एवं पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर का अजीबोगरीब बयान सामने आया है। मंत्री उषा ठाकुर ने कहा है कि कोई भी व्यक्ति शराब नहीं पीता है। तो उसको कोई नहीं पिला सकता है। सबसे पहले हमें लोगों कि मन और मानस को बदलना होगा कि नशे से दूर हो जाएं,उन्हें आध्यात्मिक की तरफ लाना होगा।

उन्होंने कहा कि जिन प्रदेशों में शराबबंदी है उन प्रदेशों की दुर्गति हो रही है। उन्होंने कहा जहां शराबबंदी है वहां शराब की ब्लैक मार्केटिंग हो रही है। और वहां शराब सबसे ज्यादा महंगी होती है। जिनको पीना है वह कभी भी मानता नहीं है। और इसलिए उन्हें आध्यात्मिक की तरफ जाना होगा। इसके साथ ही जब उनसे पूछा गया कि क्या पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने शराब की दुकान में अब तक जो तोड़फोड़ की क्या वो सही है तो उन्होंने कहा कि इसपर मेरा बोलना सही नहीं है।

इसे भी पढ़ें:पुलसि से न्याय न मिलने पर महिला ने एसपी ऑफिस में खाया जहर, हालात गंभीर, कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर दागा सवाल 

वहीं इस समय मध्य प्रदेश में शिक्षक पात्रता परीक्षा मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है और कांग्रेसी इस मामले को व्यापम-3 घोटाला बता रही है। इसे लेकर मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि जिस कांग्रेस ने देश में A से लेकर Z तक घोटाले किए हैं उन्हें सिर्फ घोटाले ही नजर आ रहे हैं। मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार नीति और नियत से काम कर रही है और लोगों के लिए विकास करने में लगी है।

उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में पचमढ़ी में शिवराज की कैबिनेट के द्वारा चिंतन शिविर का आयोजन किया गया। उसको लेकर उन्होंने कहा शिवराज सरकार लोगों के हित में चिंतन मनन कर रही है और इसी को लेकर पंचमढ़ी में चिंतन शिविर का आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि आगामी समय में मध्य प्रदेश का चुनाव आने वाला है इसलिए बीजेपी इसको लेकर रणनीति तैयार कर रही है। इसको लेकर इस चिंतन शिविर में बात हुई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...